देश की पहली Water Metro की आज शुरुआत करेंगे PM Modi, जानिए पूरी डिटेल

देश को आज पहला वॉटर मेट्रो (India’s First Water Metro) मिल जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) 25 अप्रैल 2023 को देश को पहली वॉटर मेट्रो समर्पित करेंगे। यह वॉटर मेट्रो (Water Metro) लोगों को किफायती और सुरक्षित यात्रा उपलब्ध कराएगा।

वॉटर मेट्रो (Water Metro) कोच्चि और उसके आसपास के 10 द्वीपों को जोड़ेगी। कोच्चि (kochi) व आस-पास के दस द्वीपों के बीच शुरू हो रही सेवा ऐसे शहरों के लिए बेहद उपयोगी मानी जा रही है, जहां पारंपरिक मेट्रो रेल में कई बाधाएं हैं।

पीएम मोदी (PM Modi) ने वाटर मेट्रो (Water Metro) की तस्वीरें जारी करते हुए बताया, कोच्चि वाटर मेट्रो (kochi Water Metro) शहर के बुनियादी ढांचे को बढ़ाने में अहम साबित होगी। करीब 1,136 करोड़ रुपये की परियोजना को केरल के लिए ड्रीम प्रोजेक्ट कहा जा रहा है। यह शहर में सार्वजनिक परिवहन व पर्यटन के जरिये आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा दे सकेगा।

यह भी पढ़ें: मार्केट में दोबारा गदर मचाने आ रही नई Yamaha RX100, सड़कों पर फिर से राज करेगी हर दिल अजीज बाइक

हर 15 मिनट में मिलेगी सर्विस

कोच्चि में वॉटर मेट्रो (Water Metro) में यात्रा की कीमत काफी कम होगी। ट्रैफिक नहीं होने की वजह से इसमें समय की भी बचत होगी। कोच्चि वॉटर मेट्रो 10 द्वीपों को जोड़ेगा। यात्रा के शुरुआती दौर में 75 किलोमीटर की दूरी कवर करेगा। लोगों को हर 15 मिनट में आवाजाही के लिए मेट्रो मिलेगी। इसमें कुल 78 इलेक्ट्रिक नौकाएं शामिल हैं। लोगों को 12 घंटे तक यह सुविधा मिलेगी। अभी शुरुआत में 23 नावें व 14 टर्मिनल हैं। वहीं, प्रत्येक मेट्रो में 50 से 100 यात्री बैठ सकते हैं।

कितना होगा किराया

वॉटर मेट्रो कोच्चि वॉटर मेट्रो लिमिटेड और कोच्चि मेट्रो रेल लिमिटेड का अपनी तरह का नया उद्यम है। वॉटर मेट्रो 26 अप्रैल को सुबह 7 बजे से अपने पहले रूट-हाईकोर्ट वाइपिन पर परिचालन शुरू करेगी। वहीं दूसरे रूट व्यट्टीला-कक्कनाड पर सेवा 27 अप्रैल की सुबह 7 बजे से शुरू होगी। एक बार की यात्रा के लिए लोगों से 20 रुपये का किराया लिया जाएगा।

बता दें कि वॉटर मेट्रो से 20 मिनट से भी कम समय में हाईकोर्ट से वाइपीन तक पहुंचा जा सकेगा। वहीं व्याटिला से कक्कनाड तक सफर करने का अनुमानित समय करीब 25 मिनट है। यह सेवा सुबह 7 बजे से रात 8 बजे तक जारी रहेगी। हाईकोर्ट-वाइपीन रूट पर पीक ऑवर्स में हर 15 मिनट में नावों का संचालन होगा।