आतंकी हमलों पर पहले बयान आते थे, अब US की तरह भारत दुश्मन को घुसकर मारता है: अमित शाह

by टीम डिजिटल
Amit Shah बोले-आतंकी हमलों पर पहले बयान आते थे, अब US की तरह भारत दुश्मन को घुसकर मारता है

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (HM Amit Shah) ने सीमा सुरक्षा के मुद्दे पर विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पहले आतंकी हमला होने पर केवल बयान जारी होता था, लेकिन अब हालात बदले हैं। शाह ने कहा कि भारत अब सीमा पर दखल देने वालों के खिलाफ अमेरिका और इजरायल की तरह कार्रवाई करता है। इस दौरान उन्होंने जानकारी दी कि सरकार हवाला, आतंकी गतिविधियों की निगरानी के लिए डेटाबेस तैयार कर रही है।

बेंगलुरू में बोले Amit Shah

बेंगलुरु में शाह (HM Amit Shah) ने कई कार्यक्रमों में शिरकत की। उन्होंने सुरक्षा उपायों में ढिलाई बरतने के लिए कांग्रेस के पुरानी सरकार की आलोचना की। उन्होंने कहा, ‘पहले जब भी पाकिस्तान समर्थित चरमपंथियों की तरफ से आतंकवादी हमले किए जाते थे, तो भारत केवल बयान जारी करता था, लेकिन नरेंद्र मोदी के पीएम बनने के बाद चीजें बदली हैं। पहले अमेरिका और इजरायल ही उनकी सीमा और सेना के साथ दखल देने वालों को जवाब देत थे। अब भारत भी इस समूह में शामिल हो गया है।’

ये भी पढ़ें : बीरभूम हिंसा मामले में गृहमंत्री अमित शाह से मिले TMC सांसद, राज्यपाल धनखड़ को हटाने की मांग की

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के पीएम बनने के बाद उरी (2016) और पुलवामा (2019) में आतंकी हमले हुए। शाह ने कहा, ‘हमने पाकिस्तान के अंदर 10 दिनों के भीतर सर्जिकल स्ट्राइक्स और एयर स्ट्राइक्स के जरिए जवाब दिया… कुछ लोगों ने सवाल किया इसका कोई भी प्रभाव कैसे रहा। मैं उन्हें कहता हूं कि इसका बहुत प्रभाव है। अब पूरी दुनिया जानती है कि कोई भी भारतीय सीमाओं पर दखल नहीं दे सकता, नहीं तो मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।’

नेशनल इंटेलिजेंस ग्रिड (NATGRID) के उद्घाटन कार्यक्रम में शाह (HM Amit Shah) ने बताया कि सरकार हवाला लेनदेन, आतंकियों को आर्थिक मदद और इससे जुड़ी गतिविधियों, नकली मुद्रा, नार्कोटिक्स, बॉम्ब के खतरों और अवैध हथियारों की तस्करी पर निगरानी के लिए राष्ट्रीय डेटाबेस तैयार कर रही है, क्योंकि सरकार की आतंकवाद के खिलाफ ‘जीरो टॉलरेंस की नीति है

Ⓒ 2022 Copyright and all Right reserved for Newzbulletin.in