Kanjhawala case: परिवार को सीएम केजरीवाल ने किया फोन, 10 लाख मुआवजा देंगे, बेटी को इंसाफ दिलाएंगे

Kanjhawala case: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार शाम कंझावला घसीटने से लड़की की मौत मामले में उसकी मां से फोन पर बात की है। सीएम ने खुद ट्वीट कर यह जानकारी दी। सीएम ने अपने ट्वीट में लिखा कि पीड़िता की मां से बात हुई है। बेटी को न्याय दिलवाएंगे। बड़े से बड़ा वकील खड़ा करेंगे पर देश की बेटी के साथ इंसाफ होकर रहेगा।

 

आगे मुख्यमंत्री ने लिखा उनकी मां बीमार रहती हैं, लेकिन घबराए नहीं उस मां का इलाज हम करवाएंगे। सीएम ने पीड़िता के परिवार को दस लाख रुपये मुआवज़ा राशि देने का ऐलान किया। उन्होंने कहा भविष्य में पीड़ित परिवार में भी कोई ज़रूरत हुई तो हम उसे पूरा करेंगे। हमारा फर्ज बनता है कि पीड़ितो की मदद करें।

आज हुआ यह नया खुलासा

वहीं, आज सुबह इस मामले में एक नया मोड़ आया है। बताया गया कि हादसे की शिकार 23 साल की अंजलि सिंह की दोस्त भी एक्सीडेंट के वक्त उसके साथ स्कूटी पर सवार थी। स्कूटी को टक्कर मारे जाने के बाद वह स्कूटी से गिर गई और उसे मामूली चोट लगी। इसके बाद वह उठी और डर के चलते घर चली गई, उसने किसी से इस घटना का जिक्र तक नहीं किया। मामले में सहेली की गवाही काफी मायने रखेगी।

जानिए कब का है ये मामला

बता दें कि हादसा एक जनवरी तड़के सुबह था, जब बेलोनो कार सवार पांच युवकों ने अंजलि सिंह की स्कूटी को टक्कर मार दी। इसके बाद अंजलि कार के नीचे फंस गई। इससे बेखबर कार सवार करीब 13 किलोमीटर तक घूमते रहे और अंजलि कार के नीचे ही फंसी रही। आखिर में अंजलि का शव जब कार से निकला, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

नए साल की पहली सुबह इस दर्दनाक हादसे ने देश को हिला कर रख दिया, एक मासूम लड़की इस दुनिया को बड़े ही दर्दनाक तरीके से अलविदा कह गई, सवाल कई हैं लेकिन जवाब तो बस एक है क्या लड़कियां देश की राजधानी में बिल्कुल सुरक्षित नहीं, सवाल तो ये भी है कि 13 किमी तक कोई पीसीआर वैन ने इस वैन को नहीं देखा। सवाल कई हैं लेकिन अगर आप दिल्ली में है तो अपना ख्याल जरूर रखें।