इन चार तरीकों से यूरिक एसिड रहेगा कंट्रोल, लापरवाही ले सकती है जान

यूरिक एसिड (Uric Acid) हमारे शरीर में मौजूद एक ऐका टॉक्सिन है, जो अपने आप ही बनता रहता है. आमतौर पर यह यह एसिड यूरिन के जरिए अपने आप बाहर निकल जाता है. हालांकि अगर किसी वजह से इसकी निकासी में दिक्कत आने लगे तो गुर्दे में खराबी, हार्ट अटैक का खतरा और हड्डियों के डैमेज होने जैसी परेशानियां भी झेलनी पड़ सकती हैं.

इस मात्रा से ज्यादा यूरिक एसिड होना खतरनाक

डॉक्टरों के मुताबिक बॉडी में यूरिक एसिड की मात्रा का पता लगाने के लिए आमतौर पर यूरिक एसिड ब्लड टेस्ट किया जाता है. इसे सीरम यूरेट या UA भी कहा जाता है. अगर पुरुषों में यूरिक एसिड की मात्रा 7 mg/dL और महिलाओं में 6 mg/dL से ज्यादा मिले तो इसे हाई यूरिक एसिड माना जाता है. अगर समय रहते इसका इलाज न करवाया जाए तो धीरे-धीरे आपके गुर्दे यानी किडनी फेल होने लग जाती है, जिससे आपकी जान भी जा सकती है.

शरीर में नजर आते हैं ये लक्षण

शरीर में जब भी यूरिक एसिड हाई होता है तो उसके लक्षण (Uric Acid Symptoms) पहले ही नजर आने लगते हैं. इनमें बार-बार पेशाब आना, पीठ में दर्द, गुर्दे में पथरी होना, जोड़ों में दर्द और सूजन होना, यूरिन के साथ गंध और खून आना, बाजू में दर्द, जोड़ों के पास की स्किन का फीका पड़ जाना जैसे लक्षण शामिल हैं. मेडिकल एक्सपर्टों का कहना है कि शरीर में ये लक्षण दिखते हुए तुरंत अलर्ट हो जाना चाहिए और इसे कंट्रोल करने के डॉक्टर की सलाह से तुरंत इलाज शुरू करवाना चाहिए. आज हम आपको यूरिक एसिड को नॉर्मल रखने के लिए 4 गुणकारी टिप्स आपको बताते हैं.

विटामिन सी से भरपूर भोजन करें ग्रहण

डॉक्टरों के मुताबिक आपका यूरिक एसिड नॉर्मल रहे, इसके लिए आपको विटामिन-सी से भरपूर खट्टे फल (Uric Acid Control Foods) खाने चाहिए. इनमें कीन, संतरा, मौसमी, नींबी, ब्रोकोली, काली मिर्च, स्ट्रॉबेरी, ब्रोकोली, ब्रसल स्प्राउट जैसे फल शामिल हैं. इन फलों के सेवन से आपके शरीर का यूरिक एसिड कंट्रोल होने के साथ ही आंखों की रोशनी भी बढ़ती है.

रोजाना 6-8 गिलास पानी पिएं

बॉडी में यूरिक एसिड (Uric Acid Control Tips) को हाई होने से रोकने के लिए रोजाना 6-8 गिलास पानी चाहिए. आप अपनी फिजिकल एक्टिविटी और शरीर के आकार के अनुसार इस मात्रा को और भी बढ़ा सकते हैं. पानी से यूरिक एसिड कंट्रोल में रहता है और बढ़ा हुआ एसिड यूरिन के जरिए बाहर निकल जाता है.

​मानसिक तनावों से रहें दूर

मेडिकल एक्सपर्टों के मुताबिक मानसिक तनाव और यूरिक एसिड (Uric Acid Control Tips) के बीच में सीधा संबंध होता है. जब भी आपके घर में या निजी जिंदगी में कोई टेंशन होती है तो यूरिक एसिड का स्तर एकदम से बढ़ जाता है. जिससे आपकी तबियत भी बिगड़ने लगती है. इसलिए योग करें और तनाव पर नियंत्रण रखें.

वजन कंट्रोल करने पर दें ध्यान

एक स्टडी के अनुसार यूरिक एसिड (Uric Acid Control Tips) को काबू में रखने के लिए बॉडी का वजन कंट्रोल में रखना जरूरी होता है. जिन लोगों में मोटापा आ जाता है, उनमें यूरिक एसिड बढ़ने का खतरा भी काफी ज्यादा हो जाता है. जबकि स्लिम-ट्रिम लोगों में यह काफी हद तक कंट्रोल में रहता है. इसलिए अगर आप भी इस बीमारी से बचना चाहते हैं तो अपने वजन को कंट्रोल करना शुरू कर दें.