करोड़ों बैंक ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, रिजर्व बैंक ने नियमों में किया बदलाव, अब नहीं जाना होगा ब्रांच

बैंक में खाता रखने वालों के लिए बड़ी खबर है. अगर आपका भी बैंक में अकाउंट है तो रिजर्व बैंक (Reserve Bank) ने नियमों में बड़ा बदलाव कर दिया है, जिसका सीधा असर करोड़ों ग्राहकों पर पड़ेगा. रिजर्व बैंक की तरफ से समय-समय पर ग्राहकों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए नए नियम बनाएं जाते हैं. अब आरबीआई ने सेविंग्स अकाउंट से जुड़े नियमों (RBI Savings Account Rules) में चेंज किया है.

बैंक ब्रांच जाने की नहीं है जरूरत
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से जारी किए गए दिशानिर्देशों के मुताबिक, जिन भी खाताधारकों ने पहले ही अपने वैलिड डॉक्युमेंट्स जमा कर दिए हैं और उनके एड्रेस में कोई भी बदलाव नहीं हुआ है तो ऐसे ग्राहकों को अपनी केवाईसी Know Your Customer (KYC) अपडेट करवाने के लिए बैंक ब्रांच जाने की जरूरत नहीं है.

डिटेल्स को आसानी से करा सकते हैं अपडेट
आरबीआई ने बताया है कि अगर केवाईसी की डिटेल्स में किसी भी तरह का बदलाव हुआ है तो खाताधारकों को अपनी डिटेल्स अपडेट करानी होगी. इसके लिए एक ईमेल आईडी, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर, एटीएम और अन्य डिजिटल तरीकों से आप डिटेल्स अपडेट करा सकते हैं.

डिटेल्स में बदलाव न होने पर क्या करें?
इसके अलावा जिन भी ग्राहकों की केवाईसी डिटेल्स में कोई बदलाव नहीं हुआ है तो उन ग्राहकों को अपनी केवाईसी प्रक्रिया को पूरा करने के लिए अपने से एक घोषित पत्र देना होगा. इसके लिए ब्रांच जाने की जरूरत नहीं. है.

ग्राहकों को मिलें बेहतर सुविधाएं
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी गाइडलाइन में बैंकों से कहा है कि ग्राहकों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए यह फैसले लिए जाते हैं, जिससे ग्राहकों का पैसे सुरक्षित रहे साथ ही उनकी डिटेल्स अपडेट रहें, जिससे किसी को भी परेशानी न हो. इसके साथ ही देशभर में बैंकों के नाम पर ग्राहकों से कई तरह की ठगी की जा रही है, जिसको रोकने के लिए आरबीआई की तरफ से मुहिम चलाई जा रही है.

शेयर न करें डिटेल्स
रिजर्व बैंक ने कहा है कि देश के किसी भी बैंक या फिर आरबीआई की तरफ से किसी ग्राहक को कॉल नहीं किया जाता है. इसके साथ ही किसी भी ग्राहक से उसकी पर्सनल डिटेल्स नहीं मांगी जाती हैं. तो इस तरह की फोन कॉल पर आप अपनी किसी भी जानकारी को शेयर न करें.