अब इस ग्रह पर बसेगी दुनिया, वैज्ञानिकों का दावा, इस ग्रह पर पानी का भंडार

जीवन जीने के लिए जल का होना बेहद आवश्यक है। पृथ्वी पर जल प्रचुर मात्रा में उपलब्ध होने से यहां जीवन संभव है। हालांकि, वैज्ञानिकों(Scientists) के लिए पृथ्वी के अलावा अन्य ग्रहों पर पानी को ढूंढ़ना हमेशा एक चुनौती रही है। लेकिन हाल ही में एक अध्यन से पता चला है कि पृथ्वी के अलावा कई ग्रहों पर पानी प्रचुर मात्रा में है। हालांकि, पानी उस रूप में नहीं है, जिसकी आमतौर पर अपेक्षा की जाती है।

आश्चर्य में पड़े वैज्ञानिक(Scientists)

साइंस जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक, कई ग्रहों पर प्रचुर मात्रा में पानी पाया गया है। लेकिन समुद्र, नदियों या झीलों के बजाय पानी ग्रह की चट्टानों में समाया हुआ है। आकाशगंगा में सबसे सामान्य प्रकार के तारे की परिक्रमा करने वाले इतने सारे जल जगत के प्रमाण देखकर वैज्ञानिकों(Scientists) को आश्चर्य हुआ।

वैज्ञानिकों(Scientists) ने पानी वाले ग्रहों का लगाया पता

बता दें कि एम-ड्वार्फ हमारी आकाशगंगा में सबसे अधिक देखे जाने वाले तारे हैं और वैज्ञानिकों(Scientists) ने उनके चारों ओर कई ग्रहों का पता लगाया है। हालांकि, तारे अपने ग्रहों की तुलना में काफी चमकीले होते हैं जो वैज्ञानिकों(Scientists) को सीधे ग्रह को देखने के बजाय सितारों पर ग्रह के प्रभाव का पता लगाने का कारण बनता है। पैले के अनुसार, ग्रहों की खोज के लिए अलग-अलग दृष्टिकोण अलग-अलग जानकारी साझा करते हैं।

ग्रहों पर पानी की दुनिया

यूशिकागो के एक्सोप्लैनेट वैज्ञानिक(Scientists) जैकब बीन के अनुसार, यह खोज आश्चर्यजनक थी क्योंकि कई लोगों ने पहले सोचा था कि ग्रह शुष्क और चट्टानी हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि सबूत ठोस हैं। अध्ययन किए गए ग्रहों पर पानी प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है।

इस अध्यन में हुआ खुलासा

शिकागो विश्वविद्यालय में पोस्टडॉक्टरल शोधकर्ता और अध्ययन के पहले लेखक राफेल ल्यूक ने कहा कि रहने योग्य ग्रहों की खोज के लिए इसके बहुत बड़े परिणाम हैं। उन्होंने कैनरी द्वीप समूह और ला लगुना विश्वविद्यालय के खगोल भौतिकी संस्थान के सह-लेखक एनरिक पाले के साथ अध्ययन किया।