2023 में इस खिलाड़ी का खत्म हो सकता है करियर, 6 साल बाद वनडे में हुई है वापसी

साल 2023 का आगाज हो चुका है. भारतीय टीम साल की पहली सीरीज श्रीलंका के खिलाफ खेलेगी. आगामी 3 जनवरी को मुंबई में इन दो टीमों के बीच पहला टी20 मैच खेला जाएगा.

टी20 सीरीज में धुरंधर ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या टीम इंडिया की कमान संभालेंगे. यह उनके लिए तो अहम सीरीज है ही, साथ ही अन्य कुछ खिलाड़ियों के लिए भी बेहद महत्वपूर्ण है कि वे ऐसा प्रभाव छोड़ें ताकि सेलेक्टर्स किसी भी तरह नजरअंदाज ना कर सकें.

श्रीलंका से होनी है टी20 सीरीज

भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ 3 जनवरी से टी20 सीरीज खेलेगी. इस सीरीज में तीन मैच खेले जाएंगे. इस सीरीज के लिए केरल के संजू सैमसन को टीम इंडिया में शामिल किया गया है. पूरी संभावना है कि कप्तान पांड्या उन्हें प्लेइंग-11 का हिस्सा भी बनाएं. ऐसे में उनके पास बड़ा मौका रहेगा कि वह सीरीज में अच्छे प्रदर्शन की बदौलत टीम में अपनी जगह सुनिश्चित करें.

संजू के पास बड़ा मौका

स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत कार-एक्सीडेंट में चोटिल हो गए हैं, इसी के चलते संजू सैमसन के पास एक मौका ये भी रहेगा कि वह श्रीलंका के बाद आने वाली सीरीज में बतौर विकेटकीपर चुने जाएं.

इसके लिए श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में उनका प्रदर्शन अहम रहेगा. हालांकि ईशान किशन भी एक विकेटकीपर की भूमिका निभा सकते हैं जो झारखंड टीम में इसी जिम्मेदारी में होते हैं. संजू के पास अनुभव है और वह आईपीएल में कप्तानी के साथ-साथ विकेटकीपर की जिम्मेदारी भी संभाल चुके हैं.

6 साल में जाकर टी20 से वनडे टीम में मिली जगह

संजू सैमसन को लेकर कई बार क्रिकेट विशेषज्ञों ने अपनी राय रखी है. पूर्व खिलाड़ियों का भी मानना है कि संजू को अभी तक कम ही मौके दिए गए. दिलचस्प है कि संजू ने साल 2015 में टी20 अंतरराष्ट्रीय डेब्यू किया था.

फिर उन्हें वनडे टीम में जगह बनाने में करीब 6 साल का वक्त लग गया. उन्होंने जुलाई 2021 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे डेब्यू किया था, वहीं टी20 इंटरनेशनल फॉर्मेट में अपना पहला मैच उन्होंने जुलाई 2015 में खेला था.

टेस्ट में तो अभी तक नहीं खेले

केरल के रहने वाले 28 साल के संजू अभी तक टेस्ट फॉर्मेट में तो खेल ही नहीं पाए. इसे लेकर तिरुवनंतपुरम से सांसद और कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कई बार सोशल मीडिया पर भड़ास निकाली है. उन्होंने कई बार कहा है कि संजू को टीम से बाहर रखने का फैसला समझ से परे है.

संजू अगर अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो टेस्ट टीम में भी उनके नाम पर विचार किया जा सकता है. वहीं, भारत को इस साल वनडे वर्ल्ड कप भी खेलना है और संजू अपनी जगह टीम में पक्की करने में कामयाब रहे तो वैश्विक टूर्नामेंट का हिस्सा बन सकते हैं.