SRH vs CSK: चेन्नई ने हैदराबाद के खिलाफ टॉस जीतकर चुनी बल्लेबाजी, चावला की टीम में वापसी

0
192
(Image Courtesy: Google)
New Delhi: आईपीएल 2020 (IPL 2020) का 29वां मुकाबला सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स (SRH vs CSK) के बीच दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जा रहा है, जहां चेन्नई ने टॉस जीतकर पहली बल्लेबाजी करने का फैसला किया है।
चेन्नई सुपर किंग्स के लिए जीत बेहद जरूरी

चेन्नई सुपर किंग्स ने अब तक आईपीएल में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया है। फ्रेंचाइजी ने अब तक 7 मैच खेले हैं, जिसमें सिर्फ 2 ही मैचों में जीत मिली है और इसके अलावा 5 मैचों में टीम को हार का सामना करना पड़ा है।

पिछले मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स के खिलाफ चेन्नई को पांचवी हार मिली है। अब सनराइजर्स हैदराबाद के साथ खेले जाने वाले मैच में चेन्नई के लिए जीत दर्ज करना बेहद जरूरी है, क्योंकि अब तक उन्होंने टूर्नामेंट का आधा सफर तय कर लिया है लेकिन उन्हें सिर्फ 2 जीत मिली है। अब यदि उन्हें प्ले ऑफ में क्वालिफाई करना है तो आगे के 6 मैचों में तो जीत करनी ही होगी।

सनराइजर्स हैदराबाद को करनी होगी वापसी

आईपीएल में अब तक सनराइजर्स हैदराबाद का प्रदर्शन ठीक-ठाक रहा है। पिछले मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ फ्रेंचाइजी को हार का सामना करना पड़ा। अब यकीनन फ्रेंचाइजी चेन्नई के खिलाफ जीत दर्ज करने का हर संभव प्रयास करेगी।

हैदराबाद के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर-जॉनी बेयरस्टो तो फॉर्म में हैं, लेकिन टीम के मध्य क्रम के पास अनुभव की कमी है, जो कई बार जाहिर हो चुकी है। इसके अलावा टीम का मुख्य गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार रूल्ड आउट हो चुके हैं, जो यकीनन टीम के लिए एक बड़ा झटका है।

हैड टू हैड

सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच आईपीएल का 29वां मुकाबला खेला जाएगा। इससे पहले ये दोनों टीमें आईपीएल इतिहास में 13 बार आमने-सामने आई हैं, जिसमें 9 बार चेन्नई सुपर किंग्स और 4 बार सनराइजर्स हैदराबाद ने जीत दर्ज की है। इस हिसाब से यकीनन चेन्नई का पड़ला भारी नजर आ रहा है।

कैसा रहेगा पिच का हाल?

दुबई के मैदान पर अब तक आईपीएल के कई मैच खेले जा चुके हैं। अब चेन्नई सुपर किंग्स व सनराइजर्स हैदराबाद की टीमें भी इसी मैदान में आमने-सामने आने वाली हैं। जहां, पिच की बात करें, तो अब पिच धीरे-धीरे स्लो होती जा रही हैं। पिच पर स्पिन गेंदबाजों के लिए मदद होगी। दुबई में ह्यूमिडिटी रहेगी, जिसके कारण खिलाड़ियों को काफी अधिक संघर्ष करना होगा।