Parthiv Patel ने लिया क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास, लिखी भावुक पोस्ट

नई दिल्ली: भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) ने बुधवार को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास की घोषणा कर दी है. पार्थिव पटेल ने टि्वटर पर अपने सन्यास की घोषणा की. पार्थिव (Parthiv Patel) ने संन्यास लेते हुए एक भावुक पोस्ट भी लिखी.

18 साल लंबे करियर में पार्थिव पटेल ने भारत के लिए 25 टेस्ट, 38 इंटरनेशनल वनडे और दो इंटरनेशनल टी20 खेले. डोमेस्टिक क्रिकेट में उन्होंने गुजरात के लिए 194 मैच खेले. उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट जनवरी 2018 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ जोहानिसबर्ग में खेला था.

शेयर किया भावुक पोस्ट

पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) ने अपनी पोस्ट में लिखा, ‘मैं आज अपने 18 साल लंबे क्रिकेट करियर को विराम देते हुए क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले रहा हूं. बीसीसीआई (BCCI) ने मुझ पर भरोसा जताते हुए 17 साल की उम्र में ही टीम इंडिया के लिए खेलने का मौका दिया. बीसीसीआई ने जिस तरह से मेरा साथ दिया है उसके लिए मैं हमेशा शुक्रगुजार रहूंगा.’

उन्होंने आगे लिखा, ‘मैं एक क्रिकेटर के तौर पर अपनी जिंदगी जी चुका हूं और अब मेरे ऊपर पिता के तौर पर कुछ जिम्मेदारियां हैं जिन्हें अब पूरा करना चाहता हूं.’

इंग्लैंड के खिलाफ किया था टेस्ट डेब्यू

पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) ने साल 2002 में इंग्लैंड दौरे पर महज 17 साल की उम्र में टीम इंडिया के लिए टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था. पार्थिव पटेल के नाम टीम इंडिया के लिए बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज सबसे कम उम्र में डेब्यू करने का रिकॉर्ड दर्ज है. उन्होंने 25 टेस्ट मैच में 31.13 के औसत से 934 रन बनाए हैं और 6 अर्धशतक लगाए हैं. कोई शतक उनके नाम नहीं है.

2003 में विश्व कप के लिए चुनी गई भारतीय टीम का भी पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) हिस्सा थे और हर कोई उनके चयन पर हैरान था. हालांकि, बाद में महेंद्र सिंह धोनी का जादू जब शुरू हुआ तो पटेल को टीम इंडिया में अधिक मौके नहीं मिले. आईपीएल ने पिछले साल वह आरसीबी के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में शुमार रहे, लेकिन इस साल उन्हें एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला.