होम स्पोर्टस कोरोना के बाद कितना बदल गया आपका पसंदीदा खेल क्रिकेट! स्टेडियम में...

कोरोना के बाद कितना बदल गया आपका पसंदीदा खेल क्रिकेट! स्टेडियम में दर्शक नहीं.. बाउंड्री पर सैनिटाइजर

0
253
Vincy Premier T10 League 2020 Live Cricket Score Streaming Online: The league is being hosted by the St Vincent and Grenadines Cricket Association.
कोरोना संकट के बीच एक बार फिर से क्रिकेट का मैदान सज चुका है (Image Courtesy: Google)

New Delhi: स्टेडियम में दर्शकों को स्वीकृति नहीं, गेंद पर लार लगाने की अनुमति नहीं और सीमा रेखा के पास सैनिटाइजर. कोरोना वायरस (Coronavirus) के दौरान क्रिकेट मैचों में आपका स्वागत है.

कैरेबियाई देशों में इस हफ्ते क्रिकेट शुरू हो गया है. सेंट विन्सेंट के मुख्य शहर किंग्सटाउन के समीप आर्नोस वेल पर शुरू हुई विन्सी टी10 प्रीमियर (Vincy Premier T10 League 2020) लीग में छह टीमें हिस्सा ले रही हैं.

कोरोना वायरस के बाद पहला टूर्नमेंट

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिहाज से यह काफी छोटा टूर्नमेंट है लेकिन कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप के कारण दुनिया भर में खेलों के निलंबित होने के बाद टेस्ट खेलने वाले देशों में आयोजित होने वाला यह पहला टूर्नमेंट है.

ये भी पढ़ें : वैष्णो देवी मंदिर में रोज तैयार हो रहा 500 मुस्लिमों का खाना, कराई जा रही सहरी और इफ्तार

दर्शकों के बिना हो रही टी10 लीग

सेंट विनसेंट की शुरुआत में दर्शकों को स्टेडियम में आने की स्वीकृति दिए जाने की उम्मीद थी क्योंकि यहां सिर्फ 18 मामले सामने आने के कारण यहां कोरोना वायरस संक्रमण फैलने का खतरा काफी कम है लेकिन ऐसा नहीं हो पाया.

पहले 500 दर्शकों को लाने की थी योजना

सेंट विनसेंट एवं ग्रेनेडियन्स क्रिकेट संघ (SVGCA) के अध्यक्ष किशोर शैलो ने कहा, ‘एसवीजीसीए स्टेडियम में सीमित दर्शकों के विकल्प को प्राथमिकता देता, अधिकतम 300 या 500.’ उन्होंने कहा, ‘हालांकि विशेषज्ञों ने चिंता जताई और सलाह दी कि दर्शकों को स्वीकृति देने से पहले हमें खिलाड़ियों के प्रबंधन को नियमित करने का प्रयास करना चाहिए.’

सैनेटाइजेशन का है पूरा ख्याल

स्थानीय दर्शकों को 31 मई तक चलने वाले इस टूर्नमेंट में घरेलू स्टार सुनील अंबरीश जैसे खिलाड़ी खेलते हुए दिखेंगे. अंबरीश टूर्नमेंट के छह मार्की खिलाड़ियों में से एक हैं.

मौजूदा हालात में क्रिकेट ऐसे ही संभव

किशोर ने कहा, ‘हां, मैं हताशा को समझ सकता हूं लेकिन मैं सराहना करता हूं कि स्वास्थ्य अधिकारियों की प्राथमिकता है कि अभी सामाजिक रूप से लोगों के एकत्रित होने को बढ़ावा नहीं दिया जाए.’ उन्होंने कहा, ‘आखिर हमारी सुरक्षा और स्वास्थ्य सर्वोच्च प्राथमिकता है.’