Yogi Govt में माफियाओं की उल्टी गिनती शुरू, मुख्तार-अतीक सहित कइयों की करोड़ों की संपत्ति जब्त

0
606
Yogi Govt में माफियाओं की उल्टी गिनती शुरू, मुख्तार-अतीक सहित कइयों की करोड़ों की संपत्ति जब्त
(Image Courtesy: Google)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Govt) ने बाहुबली विधायक और मा;फि’या मुख्तार अंसारी और पूर्व सांसद अतीक अहमद सहित कई मा;फि’याओं पर कार्रवाई की है. यूपी सरकार ने इन कुख्यात मा;फि’याओं की अवैध संपत्ति या तो जब्त कर ली है या फिर इनके अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलवा दिया है.

उत्तर प्रदेश (Yogi Govt) सरकार की इस कार्रवाई से मा;फि’याओं में हड़कंप मचा हुआ है. मुख्तार अंसारी हो या फिर अतीक अहमद या फिर सपा के पूर्व मंत्री आजम खान. सबके ऊपर योगी सरकार का शिकंजा कसता ही जा रहा है.

Yogi Govt ने की कईयों की संपत्ति जब्त

दरअसल, हाल ही में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अपराध और अपराधियों के खिलाफ पूरे प्रदेश में चलाये जा रहे अभियान के तहत मऊ जिले में बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के आर्थिक साम्राज्य को समाप्त करने के लिए पुलिस द्वारा मुख्तार गैं’ग को फंडिंग करने वाले और खास करीबी बदमाशों पर पुलिस ने कड़ा शिकंजा कसा है.

मुख्तार के गु’र्गों की अवैध कमाई द्वारा बनाई गई संपत्तियों को पुलिस ने कुर्क कर दिया है. इसके साथ ही मऊ पुलिस की नजर लगातार मुख्तार अंसारी गि;रो’ह के शू’ट रों द्वारा बनाई गई अवैध संपत्ति पर भी थी. 6 जुलाई को शू’टर बृजेश सोनकर की 60 लाख की संपत्ति को पुलिस ने कुर्क की थी.

ये भी पढ़ें : Sonu Sood Scholarship: गरीब बच्चों को मुफ्त शिक्षा दिलांगे सोनू, खुद उठाएंगे हर बच्चे की पढ़ाई का खर्च

पूरे पूर्वांचल में मुख्तार अंसारी का एक बड़ा मछली गि;रोह दशकों से काम कर रहा था. इस गि;रोह के लोग अवैध रूप से अन्य प्रदेशों से मछली लाकर बेचा करते थे. 18 जुलाई को मुख्तार अंसारी के करीबी मछली मा;फि’या पारसनाथ सोनकर की मोहम्दाबाद कोतवाली क्षेत्र में 8 करोड़ की जमीन और मकान को पुलिस ने नोटिस लगाकर कुर्की की प्रक्रिया शुरू की थी.

कोयला मा;फि’या पर भी शिकंजा

मुख्तार को फंडिंग करने वाले उसके बेहद करीबी कोयला मा;फि’या की 11 अगस्त को 6.5 करोड़ की संपत्ति को पुलिस ने कुर्क किया. मऊ जिले में पिछले लगभग तीन दशकों से ज्यादा समय से मुख्तार अंसारी के करीबी द्वारा अवैध बू;च’ड़ खाना संचालित किया जा रहा था.

जिलाधिकारी के आदेश पर पुलिस ने 28 अगस्त को लगभग 40 लाख रुपये कीमत के बू;च’ड़ खाने की बिल्डिंग को गिरा दिया. जिले के थाना दक्षिणटोला क्षेत्र के ग्राम पंचायत रैनी में मुख्तार अंसारी की पत्नी और साले के नाम पर बने एफसीआई गोदाम की दीवार को पुलिस ने 29 अगस्त को गिराकर लाखों रुपये की जमीन को कब्जा मुक्त कराया.

अतीक अहमद पर भी कार्रवाई

बा;हु’बली अतीक अहमद की अवैध और बेनामी संपत्तियों के खिलाफ भी पुलिस कार्रवाई में जुट गई है. सबसे पहले 26 और 27 अगस्त को अतीक अहमद की 60 करोड़ की सात संपत्तियों को पुलिस ने जब्त किया. दो दिन चली कार्रवाई में अतीक अहमद की 60 करोड़ की 7 संपत्तियों को कुर्क किया गया.

इसके बाद 5 सितंबर को अतीक अहमद के करीबी रिश्तेदार इमरान के अवैध कब्जे वाली दो बिल्डिंगों पर प्रशासन ने बुलडोजर चलवाया. प्रशासन ने बिल्डिंग गिरा कर कब्जा प्रयागराज प्राधिकरण को सौंप दिया है. इसके बाद सात सितंबर को अतीक अहमद की एक और अवैध बिल्डिंग पर प्रशासन ने बुलडोजर चला दिया.

योगी सरकार ने कसा शिकंजा

आठ सितंबर को भी अतीक के करीबियों के खिलाफ प्रयागराज विकास प्राधिकरण की कार्रवाई जारी रही. करेली इलाके के बाजूपुर- एनुद्दीनपुर में दस बीघा में अतीक के करीबी असाद अहमद, कल्लू और इसरार द्वारा की गई प्लाटिंग की बाउन्ड्री वाल पीडीए ने गिरा दी है.

अभी भी अतीक की 6 संपत्तियों की कुर्की की कार्रवाई 14 सितम्बर तक पूरा करने का आदेश डीएम ने जारी किया है. जबकि अतीक की झूंसी के कटका में स्थित लाखों की तीन भूखंडों को भी कुर्क करने का आदेश गैं’गस्टर एक्ट के तहत डीएम ने दे दिया है.