हादसे का शिकार हुई वंदे भारत एक्सप्रेस, तस्वीर खुद सुनायेगी दास्तां

by Waqar Panjtan

मुंबई सेंट्रल से गुजरात के गांधीनगर के बीच चलने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस गुरुवार को दुर्घटना का शिकार हो गई. सुबह करीब 11.15 बजे वटवा स्टेशन से मणिनगर के बीच रेलवे लाइन पर भैंसों के झुंड के आने से ये हादसा हुआ. ट्रेन के इंजन का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया. सभी यात्री सुरक्षित हैं. पश्चिम रेलवे के सीनियर पीआरओ जेके जयंति ने ये जानकारी दी. 

वहीं रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि मध्य महाराष्ट्र के लातूर स्थित मराठवाड़ा रेल कोच फैक्टरी आने वाले सालों में वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के अपडेट वेरिएंट के लिए करीब 1,600 डिब्बों का निर्माण करेगी और इनमें से प्रत्येक पर 8 करोड़ रुपये से लेकर 9 करोड़ रुपये की लागत आएगी. वैष्णव ने कहा कि वंदे भारत ट्रेन का अपडेट वेरिएंट 200 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार से चलने में सक्षम होगा. केंद्रीय मंत्री ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक कार्यक्रम के दौरान यह बात बताई है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘वंदे भारत ट्रेन के अगले संस्करण का निर्माण मराठवाड़ा में किया जाएगा. लातूर स्थित कारखाने में लगभग 1,600 कोच का निर्माण किया जाएगा. प्रत्येक कोच की लागत 8 करोड़ रुपये से 9 करोड़ रुपये होगी. यह परियोजना 400 किलोमीटर से 500 किलोमीटर के दायरे में स्थित कंपनियों के लिए अवसर पैदा करेगी.’’

डेढ़ साल बाद आ जाएगी अपडेट ट्रेन
केंद्रीय मंत्री वैष्णव ने वंदे भारत एक्सप्रेस की अगली पीढ़ी के बारे में बात करते हुए कहा, ‘‘इन रेलगाड़ियों की अधिकतम गति वर्तमान के 180 किलोमीटर प्रति घंटे की तुलना में 200 किलोमीटर प्रति घंटे होगी. इस वेरिएंट का पहला कोच अगले 15 से 16 महीनों में तैयार हो जाएगा.’’

मुंबई से गांधीनगर यात्रा समय घटाया
पश्चिम रेलवे ने बुधवार से नई शुरू की वंदे भारत सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन के यात्रा समय को और घटा दिया है. वंदे भारत सुपरफास्ट एक्सप्रेस मुंबई सेंट्रल से गांधीनगर की दूरी तय करने में पांच मिनट कम समय लेगी और ट्रेन गांधीनगर से आते समय 20 मिनट पहले मुंबई सेंट्रल पहुंचेगी. रेलवे ने बताया कि नया समय 5 अक्टूबर से प्रभाव में आ जाएगा.

हाल ही में शुरू हुई है तीसरी ट्रेन

गांधीनगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा हरी झंडी दिखाए जाने के एक दिन बाद ट्रेन ने एक अक्टूबर को अपना कमर्शियल ऑपरेशन शुरू किया था. हाल ही में प्रधानमंत्री ने गांधीनगर और मुंबई के बीच चलने वाली सेमी हाई स्पीड वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के नए और वेरिएंट को हरी झंडी दिखायी है.

 महाराष्ट्र और गुजरात की राजधानियों को जोड़ती है. यह ट्रेन वंदे भारत ट्रेनों की सीरीज में तीसरी ट्रेन है, जो देश में संचालित की गई हैं. इस सीरीज की पहली ट्रेन नई दिल्ली और वाराणसी के बीच शुरू की गई थी, जबकि दूसरी ट्रेन नई दिल्ली से माता वैष्णो देवी, कटरा के बीच शुरू हुई थी.

Ⓒ 2022 Copyright and all Right reserved for Newzbulletin.in