UP Election 2022: एक हुए अखिलेश और शिवपाल, सैफई में मना जश्न.. सियासी गलियारे में बढ़ी हलचल

नई दिल्ली: इटावा के सैफई में पांच साल के लंबे अंतराल के बाद सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के पैतृक गांव सैफई में समाजवादी परिवार के एक होने का जश्न मनाया गया।

लखनऊ में चाचा शिवपाल (Shivpal Yadav) की भतीजे अखिलेश (Akhilesh Yadav) की मुलाकात और गठबंधन की सूचना आते ही सैफई में दीपावली जैसा उत्सव मनाया गया।

इसमें हर एक व्यक्ति ने किसी न किसी रूप में अपनी सहभागिता की। सैफई में सपा और प्रसपा कार्यकर्ताओं ने हनुमान मंदिर घंटाघर पर एकत्रित होकर जश्न मनाया। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव गुरुवार को शाम लगभग 3:30 बजे अचानक अपने चाचा प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव से मिलने उनके घर पहुंच गए।

चाचा और भतीजे की इस मुलाकात की जानकारी सियासी गलियारे में आते ही यूपी की राजनीति में हलचल तेज हो गई है। कुछ देर बाद अखिलेश यादव ने शिवपाल यादव के साथ अपनी तस्वीर ट्वीट कर इस बात की जानकारी भी दी। जानकारी मिलने पर सपा व प्रसपा के कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर दौड़ गई।

ब्लाक अध्यक्ष संतोष शाक्य के नेतृत्व में सैकड़ों नेताओं ने आतिशबाजी चलाकर एक दूसरे को मिठाइयां खिलाई गई। सैफई में देर रात तक चाचा-भतीजा जिंदाबाद के नारे लगते रहे। इस दौरान सैफई गांव के प्रधान रामफल वाल्मीकि, प्रधान बघुइया राकेश यादव, प्रधान रामबाबू यादव, यदुवीर सिंह, विजय यादव, दिनेश मास्टर, चौधरी सुरेंद्र सिंह व अमरेश शाक्य आदि मौजूद रहे।