यूपी में कांग्रेस प्रवक्ता बनने के लिए पेपर, पूछा गया – ‘RSS क्यों है खतरनाक?’

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने राज्य में प्रवक्ताओं (UP Congress Spokesperson Exam) की नियुक्ति के लिए परीक्षा का आयोजन किया। हालांकि, इस परीक्षा में पूछे गए सवाल पार्टी के बड़े नेताओं के लिए परेशानी खड़ी करते दिख रहे हैं।

दरअसल, 45 मिनट के इस पेपर में कई सवाल पूछे गए हैं। इसमें ‘RSS संगठन खतरनाक क्यों है’, ‘2009 में कांग्रेस ने कितनी सीटें जीती हैं’ जैसे सवाल शामिल हैं।

ये भी पढ़ें : चीनी मोबाइल कंपनियों पर मोदी सरकार का शिकंजा, दिल्ली समेत देशभर में इनकम टैक्स की छापेमारी

जानकारी के अनुसार, उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता के चुनाव (UP Congress Spokesperson Exam) के लिए 45 मिनट का एक पेपर रखा गया है। इसमें 20 प्रश्न ऑब्जेक्टिव हैं और 2 विश्लेषणात्मक। सवालों का पैटर्न प्रवक्ता बनने के इच्छुक लोगों को यूपीएससी एग्जाम से कम नहीं लग रहा।

पूछे गए ऐसे सवाल

  • उत्तर प्रदेश में कितने ब्लॉक और क्षेत्र हैं?
  • लोकसभा चुनाव में यूपी में कितनी सीटें आरक्षित हैं?
  • यूपी विधानसभा में कितनी सीट हैं?
  • क्यों योगी सरकार विफल मानी जा रही है?
  • मनमोहन सरकार क्यों अच्छी थी और उसकी क्या-क्या उपलब्धियां रही हैं?
  • RSS संगठन खतरनाक क्यों है?
  • यूपी में कितनी लोकसभा और विधानसभा सीटें हैं 2004 और 2009 में कांग्रेस ने कितनी सीटें जीती हैं?

इंटरव्यू और रिटर्न टेस्ट ले रही कांग्रेस

कांग्रेस के प्रवक्ता अंशु अवस्थी के मुताबिक, राज्य में प्रवक्ताओं के इंटरव्यू (UP Congress Spokesperson Exam) किए जा रहे हैं और एक रिटर्न टेस्ट भी लिया जा रहा है। उम्मीदवार से एक फॉर्म भरवाया जाता है। इसमें नाम, जन्मतिथि, शिक्षा, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी जैसी बुनियादी जानकारी देनी होती है।

UP Congress Spokesperson Exam: देनी पड़ रही परीक्षा

इसके अलावा उनसे सोशल मीडिया की भी जानकारी मांगी गई है। जैसे कितने फॉलोवर्स हैं, यूट्यूब चैनल का नाम क्या है, फेसबुक पेज का नाम क्या है। यूपी के 75 जिलों के 2850 लोगों ने अबतक परीक्षा में हिस्सा लिया है। 36 बड़े जिले में 1750 का इंटरव्यू चल रहा है। इसके परिणाम दिसंबर के आखिरी हफ्ते में जारी किए जाएंगे। लखनऊ, हरदोई, सीतापुर और लखीमपुर में ये पेपर हो चुका है।