मुबारक हो नया साल 2023, इस देश ने सबसे पहले मनाया हैप्पी न्यू ईयर

आज 2023 की पहली सुबह है, बीती रात दुनियाभर में न्यू ईयर का जश्न मनाया गया। न्यूजीलैंड, सामोआ, टोंगा, किरिबाती जहां सूरज पहले अस्त होता है नए साल का स्वागत हुआ भारत में भी लोग नए साल को लेकर बेकरार दिखे । दुनिया भर के लोग नए साल के जश्न की खुमारी में साराबोर है।

जानकारी के मुताबिक प्रशांत द्वीप के देश सामोआ, टोंगा, किरिबाती उन देशों में से हैं जहां दुनिया में सबसे पहले नए साल का स्वागत होता है। इसके करीब एक घंटे बाद दूसरे नंबर पर न्यूजीलैंड नए साल का स्वागत होता है। यहां के लोगों ने न्यू ईयर का स्वागत जोर-शोर से किया। लोगों ने पटाखे फोड़कर जश्न मनाया गया।

 

दुनिया के अलग अलग हिस्सों में नए साल का समय
भारतीय समयानुसार शाम साढ़े तीन बजे सामोआ, टोंगा व किरिबाती से नए साल का जश्न शुरू होता है। इसके बाद शाम 3:45 मिनट पर न्यूजीलैंड नया साल मनाया जाता है। शाम साढ़े चार बजे न्यूजीलैंड के कुछ अन्य हिस्सों में सेलिब्रेशन होता है। इसके बाद शाम 5:30 बजे रूस के एक छोटे क्षेत्र के अलावा अन्य देशों में नए साल का स्वागत होता है।

ऐसे बढ़ती है घड़ी की सुई
शाम साढ़े सात बजे से ऑस्ट्रेलिया, साढ़े आठ बजे जापान, दक्षिण कोरिया, साढ़े नौ बजे चीन, फिलीपीन्स व 12 बजे इंडोनेशिया, थाईलैंड में जश्न शुरू हो होता है। रात 11 बजे से म्यांमार, साढ़े 11 बजे बांग्लादेश, 11:45 मिनट पर नेपाल और ठीक 12 बजे भारत व श्रीलंका में नए साल का जश्न मनाया जाता है। रात एक बजे पाकिस्तान में नए साल का स्वागत होता है। इसके अलावा एक जनवरी को सुबह 11:30 से अमेरिका में नए साल का जश्न होता है।

भारत में जश्न का माहौल

भारत में भी लोग रात 12 बजने का इंतजार कर रहे थे। इससे पहले दिल्ली, मुंबई, पुणे समेत सभी शहर नए साल का भरपूर स्वागत किया। विभिन्न शहरों के रेस्टोरेंट, बार और पबों के आसपास लोगों की चहल-पहल दिखी। दिल्ली के कनॉट प्लेस, हौजखास, खान मार्केट, साउथ एक्स आदि पर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल भी मौजूद रहा।