ताइवान ने चीन को दिखाई औकात, सीमा में जबरन घुसे चीनी सुखोई-35 फाइटर को मा’र गिराया

ताइपे। दक्षिण चीन सागर में चीन के साथ तनाव के बीच ताइवान (Taiwan) ने चीनी फाइटर जेट को मा र गिराया है। टीवी रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि ताइवानी एयर स्पेस में घुसे चीनी सुखोई-35 विमान को हवा में ही मा र गिराया गया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

बताया जा रहा है कि ताइवान (Taiwan) ने अमेरिकी पेट्रियाट मिसा इल डिफेंस सिस्‍टम का इस्‍तेमाल किया। एयर स्पेस में घुसते ही इस विमान को मा र गिराया गया है।

अनसुनी की थी चेतावनी

खबरों में दावा किया जा रहा है कि Taiwan ने चीनी विमान को कई बार चेतावनी दी, लेकिन उसके बाद चीनी विमान यहां के एयरस्‍पेस में बना रहा। इसके बाद सेना ने उसे मा र गिराया। इस घटना में पायलट घायल हो गया है। अगर यह घटना सच साबित होती है तो दोनों ही देशों में जं ग की नौबत आ सकती है।

ये भी पढ़ें : भारत-रूस का PAK को बड़ा झटका, Rajnath Singh से मुलाकात के बाद बोला रूस-नहीं बेचेंगे कोई ह थि’यार

बता दें कि चीन पिछले कई दिनों से Taiwan के एयरस्‍पेस में अपने लड़ाकू विमान भेज रहा है। दक्षिण चीन सागर में बसे इस छोटे से देश ने चीन के किसी भी हिमाकत का जोरदार जवाब देने के लिए अपनी सैन्य क्षमता को और मजबूत करने की तैयारी शुरू कर दी है।

ताइवान पूरे अलर्ट पर

चीन के किसी भी प्रकार के आक्रामक रवैये से निपटने के लिए Taiwan की नेवी और एयरफोर्स अलर्ट पर है। राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने सैन्य ताकत में इजाफा करने के लिए रिजर्व सैन्य बलों को और मजबूत करने के लिए कई नई घोषणाएं की हैं। जिसके तहत रिजर्व फोर्स को ताइवानी सेना के लिए मजबूत बैकअप के रूप में विकसित किया जाएगा।

चीन ने हाल के दिनों में तेज की कार्रवाई

ताइवानी राष्ट्रपति की यह घोषणा इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि चीन ने आज ही हॉन्ग कॉन्ग में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को लागू किया है और ताइवान को भी एक देश दो तंत्र के तहत मिलाने की धम की दी है।

इसके अलावा चीन हमेशा से ताइवान (Taiwan) को अपने देश में सैन्य ताकत से मिलाने की धम की देता रहा है। हाल के दिनों में कई बार चीनी एयरक्राफ्ट से ताइवानी एयरस्पेस का उल्लंघन भी किया है।

अमेरिका ने ताइवान को दी पैट्रियॉट मिसा इल

ताइवान (Taiwan) को अमेरिका के पैट्रियॉट एडवांस कैपिबिलिटी-3 मिसा इलों की बिक्री से चीन को इतनी मिर्ची लगी है कि उसकी सरकारी मीडिया बिलबिलाने लगी है।

620 मिलियन डॉलर की अनुमानित लागत वाले इस रक्षा सौदे को अमेरिका की मंजूरी मिलने के बाद सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने सीधे तौर पर Taiwan और USA को आग से न खेलने की चेतावनी दे डाली। इन दिनों साउथ चाइना सी में अमेरिका के दो एयरक्राफ्ट कैरियरों के युद्धाभ्यास से भी चीन चिढ़ा हुआ है।