Swachh Survekshan 2020: सफाई के मामले में चौथी बार देश का नंबर-1 शहर बना इंदौर

0
232
Swachh Survekshan 2020
(Image Courtesy: Google)
New Delhi: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) गुरुवार को वीडियो कॉन्फेंसिंग के जरिए स्वच्छता सर्वेक्षण (Cleanliness Survey 2020) के पांचवें संस्करण ‘स्वच्छ सर्वेक्षण- 2020’ (Swachh Survekshan 2020) के परिणामों की घोषणा की।

लगातार चौथी बार इंदौर को देश के सबसे साफ शहर का खिताब मिला। इस दौरान साफ-सफाई को लेकर बेहतर प्रदर्शन करने वाले शहरों को पुरस्कृत भी किया गया। साथ ही पीएम मोदी (Narendra Modi) देश के कुछ ‘स्वच्छाग्रहियों’ और सफाईकर्मियों से बातचीत भी की।

देश के सबसे साफ शहरों की लिस्ट में इंदौर के बाद दूसरे नंबर पर सूरत और तीसरे नंबर पर नवी मुंबई रहा। केन्द्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बधाई भी दी। 100 से ज्यादा शहरों वाले राज्य में सबसे साफ राज्य छत्तीसगढ़ और 100 से कम शहरों वाले राज्य में सबसे साफ राज्य झारखंड घोषित किया गया। भारत के सबसे साफ कैन्टोनमेंट एरिया के तौर पर जालंधर कैंट ने बाजी मारी।

वाराणसी बेस्ट गंगा टाउन

देश के नागरिकों में स्वच्छता को लेकर भागीदारी बढ़ाने के लिए स्वच्छ सर्वेक्षण की शुरुआत की गई थी। बीते 28 दिनों में स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 (Swachh Survekshan 2020) को पूरा किया गया है। गुरुवार को आयोजित होने वाले ‘स्वच्छ महोत्सव’ में स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट के अलावा स्वच्छ सर्वेक्षण इनोवेशन, स्वच्छ सर्वेक्षण सोशल मीडिया और गंगा के किनारे बसे नगरों की भी रिपोर्ट जारी की गई। वाराणसी को बेस्ट गंगा टाउन का खिताब दिया गया।

लगातार तीन साल टॉप पर रहा इंदौर

आपको बता दें कि स्वच्छता सर्वेक्षण के पहले संस्करण में भारत में सबसे स्वच्छ शहर का खिताब मैसुरू को मिला था। वहीं इसके बाद लगातार तीन साल 2017, 2018 और 2019 में मध्य प्रदेश का इंदौर शहर सबसे स्वच्छ घोषित किया गया था।