Subramanian Swamy ने राजीव गांधी को दिया राम मंदिर का श्रेय, BJP विधायक ने बताया ‘गिरगिट’

0
168
Subramanian Swamy ने राजीव गांधी को दिया राम मंदिर का श्रेय, BJP विधायक ने बताया ‘गिरगिट’
(Image Courtesy: Google)

नई दिल्ली. राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy BJP) ने एक टीवी डिबेट के दौरान अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का श्रेय राजीव गांधी को दिया है. साथ ही स्वामी (Subramanian Swamy) ने कहा कि राम मंदिर पर आने वाले निर्णय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कोई रोल नहीं है. सरकार में रहते हुए उन्होंने ऐसा कोई काम नहीं किया, जिसे वह जानते हैं.

उधर, सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) के इस बयान पर दिल्ली से बीजेपी विधायक तेजिंदर सिंह बग्गा ने उन्हें घेरा है. बग्गा ने स्वामी को गिरगिट करार दिया है.

टीवी डिबेट का वीडियो वायरल

न्यूज चैनल ‘TV9 Bharatvarsh’ की सुमैरा खान से बातचीत के दौरान स्वामी (Subramanian Swamy) ने कहा, “प्रधानमंत्री का तो इसमें कोई योगदान नहीं हैं…राम मंदिर में. सारी बहस तो की हम लोगों ने. सरकार की तरफ से उन्होंने ऐसा कोई काम नहीं किया, जो मैं जानता हूं कि हम कह सकते कि निर्णय आया है. वास्तव में जिन्होंने काम किया है, उनका मैंने नाम दिया है. पहले- राजीव गांधी.”

हालांकि, बीजेपी सांसद का यह इंटरव्यू कब का है? फिलहाल यह स्पष्ट नहीं, मगर उन्हीं की पार्टी के दिल्ली के हरि नगर से विधायक तेजिंदर सिंह बग्गा ने इस पर उन्हें घेरा है. बग्गा ने पीएम को लेकर दिए बयान के लिए स्वामी (Subramanian Swamy) को गिरगिट कर करार दे दिया.

बग्गा ने स्वामी को कहा गिरगिट स्वामी

उन्होंने ट्वीट किया, “गिरगिट स्वामी कह रहे हैं कि पीएम मोदी का राम मंदिर की निर्माण प्रक्रिया में कोई भूमिका नहीं है और वह राजीव गांधी को इसके लिए श्रेय दे रहे हैं.”

बग्गा के इस वीडियो वाले ट्वीट पर उनके फैंस और फॉलोअर्स ने भी प्रतिक्रियाएं दीं. एक यूजर ने लिखा गया, तजिंदर बग्गा के लिए ही कहा गया है कि अनपढ़ आदमी को कितना ही समझाओ-बुझाओ, वह अनपढ़ ही रहता है. राजनीति में अभी अंडे से फूटे भी नहीं और सुब्रमण्यम स्वामी जैसे महान नेता को आंख दिख रहे. तुम्हारे साहब भी स्वामी से डरते हैं, पूछना कभी जरा उनसे.

ये भी पढ़ें: Namami Gange Mission के तहत PM मोदी ने किया उत्तराखंड में 6 मेगा परियोजनाओं का उद्घाटन

वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा, स्वामी का राम मंदिर निर्माण में कोई योगदान नहीं है. पहले अपने तथ्य जांचे. वह इस मसले में दखल देकर श्रेय लेना चाहते हैं, पर सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें ऐसा करने नहीं दिया. राम सेतु के मामले में उन्होंने अहम भूमिका निभाई और मैं उसकी तारीफ करता हूं.