कंगना रनौत को मिला सुब्रमण्यम स्वामी का साथ, बोले-भरोसा रखो हम सभी तुम्हारे साथ हैं

मुंबई. शिवसेना और महाराष्ट्र सरकार के साथ विवादों के बीच बॉलिवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के ऑफिस पर बीएमसी ने बुल्डोजर चला दिया है. कंगना के मुंबई पहुंचने से पहले इस कार्रवाई ने नया विवाद शुरू कर दिया है. बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने इस बीच एक बार फिर कंगना रनौत का पक्ष लिया है. उन्‍होंने ट्वीट करके जताया है कि वह इस मुद्दे पर कंगना के साथ हैं.

स्वामी ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके कहा, ‘कंगना से कहें कि वह भरोसा रखें. हम सभी इस संघर्ष में उनके साथ हैं.’

PoK वाला बयान बना मुसीबत

मुंबई की पाक अधिकृत कश्‍मीर (पीओके) से तुलना और मुंबई पुलिस की आलोचना के बाद महाराष्‍ट्र सरकार और खासकर शिवसेना के नेता संजय राउत ने कंगना रनौत पर ह मले बढ़ा दिए हैं.

कंगना के खिलाफ ड्र ग्स मामलों में जांच के आदेश दिए गए हैं. वहीं शिवसेना सांसद ने मुंबई की तुलना पीओके से करने पर उनके खिलाफ केस दर्ज कराया है जिसमें उनपर रा ष्‍ट्रद्रो’ह का आरोप लगाया गया है.

स्वामी ने उठाए सवाल

शिवसेना के इस आरोप पर भी सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने ट्वीट करके पूछा था कि क‍िस आधार पर महाराष्‍ट्र सरकार कंगना के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज करेगी. किस अधिनियम की किन धाराओं को लागू किया जाएगा.

कंगना की हर मदद को तैयार

इससे पहले जुलाई में इससे पहले सुब्रमण्यम स्वामी के वकील ईशकरण ने सोशल मीड‍िया पर जानकारी दी थी कि कंगना को डॉ. स्वामी कानूनी रूप से मदद करने को तैयार हैं. ईशकरण ने ट्वीट कर बताया था कि स्वामी पहले ही यह बयान दे चुके हैं कि अगर कंगना या उनकी टीम को पुलिस में स्टेटमेंट देने के दौरान किसी प्रकार की कोई कानूनी मदद चाहिए तो वह कंगना की पूरी मदद करेंगे.

ये भी पढ़ें : मुंबई की Bhaykhala Jail बनी रिया चक्रवर्ती का नया ठिकाना, एनसीबी ऑफिस से लाई गई जेल

खुद स्वामी ने ट्वीट किया, ‘कंगना रनौत के ऑफ‍िस ने ईशकरण से संपर्क किया. ईशकरण और मैं जल्द ही मिलकर चर्चा करेंगे कि कैसे कंगना को उनके कानूनी अध‍िकारों में मदद करें और मुंबई पुलिस के साथ कब मीट‍िंग की जाए. मुझे बताया गया है कि वह हिंदी सिनेमा की टॉप तीन स्टार्स में से एक हैं लेक‍िन हिम्मत के मामले में वह सबसे अव्वल हैं.’