47 साल के हुए सोनू सूद, किया 3 लाख प्रवासियों को नौकरी देने का ऐलान.. लोग बोले-आ गए अच्छे दिन

0
363
Sonu sood happy birthday
Image Source: Twitter @Sonu sood

नई दिल्ली। कोरोना काल में जरूरतमंदों की मदद कर फरिश्ता बने अभिनेता सोनू सूद अनलॉक के दौरान भी लोगों की मदद करने में जुटे हुए हैं। तमाम तारीफों के बीच भी सोनू रुक गए हो, ऐसा नहीं है। उन्होंने अपनी मदद का दायरा और ज्यादा बढ़ा दिया है।

पहले जो सोनू सिर्फ लोगों को एक जगह से दूसरी जगह जाने में मदद कर रहे थे, अब वे किसानों को ट्रैक्टर देने से लेकर नौकरियां देने तक जैसे काम भी करने लगे हैं।

प्रवासियों को नौकरी दिलवाएंगे सोनू सूद?

30 जुलाई को सोनू सूद अपना 47वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। वे अपने बर्थडे पर कोई बड़ी बॉलीवुड पार्टी को अंजाम नहीं दे रहे हैं, बल्कि इस मौके पर भी लोगों की मदद कर पुण्य कमाने की कोशिश में हैं। सोनू सूद ने सोशल मीडिया पर ऐलान किया है कि वे अब प्रवासियों को नौकरी दिलवाने में मदद करेंगे।

खासकर बाढ़ से प्रभावित बिहार और असम में वे इस मुहिम को तेजी से चलाने वाले हैं। सोनू सूद ने सोशल मीडिया पर बताया- मेरे जन्मदिन के अवसर पर मेरे प्रवासी भाइयों के लिए http://PravasiRojgar.com का 3 लाख नौकरियों के लिए मेरा करार। ये सभी अच्छे वेतन, PF,ESI और अन्य लाभ प्रदान करते हैं। धन्यवाद AEPC, CITI, Trident, Quess Corp, Amazon, Sodexo, Urban Co , Portea और अन्य सभी का।

लगातार मदद का हाथ बढ़ा रहे सोनू

सोनू सूद ने प्रवासी रोजगार के नाम से नई मुहिम शुरू की है। उन्होंने कई बड़ी कंपनियों संग करार भी किया है। बाढ़ की वजह से असम और बिहार में लाखों लोग प्रभावित हैं और कई ने अपनी नौकरियों से भी हाथ धो दिया है। अब इन सभी की मदद को सोनू सूद आगे आए हैं। सोनू की ये पहल उन सभी लोगों के लिए एक नई उम्मीद लेकर आई है जिन्होंने इस बाढ़ में अपना सबकुछ खो दिया है।

इससे पहले भी सोनू सूद ने अलग-अलग तरीके से लोगों तक मदद पहुंचाई है। हाल ही में उन्होंने एक किसान को दो बैल दिए थे ताकि उन्हें खेत जोतने में मदद मिल सके। सोनू ने एक और किसान को ट्रैक्टर तक का तोहफा दिया था। सोनू सूद का ये रूप सभी को खूब पसंद आ रहा है। वे सभी की नजरों में रियल लाइफ हीरो बन गए हैं। सोशल मीडिया पर इससे जुड़े खूब कमेंट्स भी आ रहे हैं। एक ने लिखा कि प्रवासी मजदूरों के अच्छे दिन सोनू सूद ने प्रवासियों को आखिरकार अच्छे दिन दिखा दिए। उम्मीद है कि वह ऐसे ही मदद करते रहेंगे।