सऊदी-कुवैत से भारत लौटने वाले ध्यान दे, भारत सरकार ने जारी की गाइडलाइन्स.. 8 अगस्त से होगी लागू

नई दिल्ली। कोरोना काल के बीच अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी लगी हुई है। ऐसे में अगर आप सऊदी या कुवैत से स्पेशल फ्लाइट के जरिए भारत लौटने की सोच रहे हैं तो जरा रुक जाइए। भारत सरकार ने दूसरे देशों से वापस लौटने वाले भारतीयों के लिए नई गाइडलाइन्स जारी की हैं, जो 8 अगस्त से लागू होंगी।

इसके तहत विदेश से लौटने वाले नागरिकों को क्वारंटीन अनिवार्य किया गया है। साथ ही साथ कुछ नियमों का पालन भी करना होगा।

क्या है नई गाइडलाइन्स

भारत सरकार की तरफ से जारी नई गाइडलाइन के अनुसार, विदेश से आने वाले नागरिकों को 14 दिनों के लिए क्वारांटिन जरूरी होगा। इसके से 7 दिनों का पैसा देकर क्वारांटिन में रहना होगा, जबकि बाकी के 7 दिनों तक होम आइसोलेशन में रहना होगा।

साथ ही साथ सभी यात्रियों को भारत आने से कम से कम 72 घंटे पहले newdelhiairport.in पर घोषणा पत्र जमा करना होगा। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी की गई ये नए गाइडलाइन 8 अगस्त, 2020 से लागू होगी।

डिक्लरेशन फॉर्म भरना जरूरी

गाइडलाइन्स के मुताबिक, यात्रा से 72 घंटे पहले आपको सेल्फ डिक्लरेशन फॉर्म अनिवार्य रूप से भरना है। इस फॉर्म में आपको अपनी स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी प्रदान करनी होगी। इसके साथ यात्रियों को पोर्टल पर एक हलफनामा यानी एफिडेविट भी देना होगा कि वे 14 दिनों के क्वारंटाइन पीरियड को फॉलो करेंगे।

मानने होंगे ये नियम

  • पहले 7 दिन अपने खर्च पर किसी क्वारंटाइन केंद्र में रहना होगा
  • उसके बाद 7 दिनों के लिए घर पर क्वारंटाइन रहना पड़ेगा
  • यदि कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव है, तो RTPCR क्वारंटाइन केंद्र पर जाने से बच सकते है
  • कोरोना टेस्ट रिपोर्ट 96 घंटे से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए
  • यात्रा से पहले यह रिपोर्ट दिल्ली एयरपोर्ट के पोर्टल पर अपलोड करनी अनिवार्य है
  • गर्भवती महिला को घर में क्वारंटाइन की अनुमति दी जा सकती है
  • अगर बच्चा 10 साल से कम उम्र का है, तो उसे भी घर में क्वारंटाइन की अनुमति दी जा सकती है
  • यात्री के परिवार में किसी सदस्य की मृत्यु हो जाने की स्थिति में, होम आइसोलेशन की अनुमति दी जा सकती है