सरदार पटेल ने संभाला, नेहरू ने सबकुछ बिगाड़ा… पटेल पीएम होते तो बात कुछ और होती: संबित पात्रा

0
339
Sambit-patra
(Image Courtesy: Google)

नई दिल्ली. बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने नेहरू और सरदार पटेल को लेकर बड़ा बयान दिया है. बीजेपी प्रवक्ता ने कहा है कि सरदार पटेल ने देश को संभाला और नेहरू ने देश बिगाड़ा. अगर नेहरू की जगह सरदार पटेल भारत के पीएम होते तो बात ही कुछ और होती.

दरअसल, यह पूरा बयान पात्रा ने कल हैदराबाद में वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए दिया. इसके बाद से वह विरोधियों के निशाने पर हैं.

ट्रोलर्स के निशाने पर आए पात्रा

दरअसल, तेलंगाना वर्चुअल रैली का एक वीडियो शेयर करते हुए पात्रा ने लिखा कि ‘सरदार पटेल ने संभाला, नेहरू ने बिगाड़ा” अगर नेहरू की जगह सरदार पटेल भारत के प्रधानमंत्री होते तो बात ही कुछ और होती.’ इसपर यूजर्स ने ट्रोल करते हुए लिखा कि अगर नेहरू ना होते तो आप आज डॉक्टर होने की जगह अंग्रेजों के गुलाम होते.

तेलंगाना रैली से जुड़ा है वीडियो

पात्रा ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें वे भाषण दे रहे हैं।. वीडियो में पात्रा कह रहे हैं कि कश्मीर में जिस तरह का अत्याचार हो रहा था ठीक उसी प्रकार का अत्याचार हैदराबाद में भी हो रहा था. किन्तु वहां नेहरू संभाल नहीं पाये लेकिन यहां सरदार पटेल ने हैदराबाद का जिस प्रकार से भारत में विलय किया. मैं चाहता हूँ कि एक बार सभी नमन करे अपने मन के अंदर ऐसे लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल का.

ये भी पढ़ें : गलवान: चीन ने हटाए सैनिक तो झड़प वाली जगह से भारतीय सेना भी ने भी किया बैकऑफ

पात्रा ने कहा “नेहरू की जगह अगर पटेल देश के प्रधान मंत्री होते, ये जो एक परिवार ने दीमक की तरह हिंदुस्तान की भूमि को काट खाया है. इस एक परिवार का पहला पौधा अगर नेहरू हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री न बनते, अगर पटेल पीएम बनते तो जिस प्रकार हैदराबाद का समाधान हुआ उसी प्रकार कश्मीर का समाधान भी होता और कश्मीर इतने वर्षो तक आर्टिक्ल 370 की जकड़ में नहीं होता.”

 

लोगों ने लगाई क्लास

पात्रा के इस बयान पर लोग उन्हें ट्रोल करने लगे. लोगों का कहना था कि नेहरू का नाम लेकर मौजूदा सरकार की कमियों पर पर्दा नहीं डाल सकते. एक यूजर ने लिखा ‘सरदार पटेल ने आतंकवादी संगठन आरएसएस को बैन किया था, नेहरू ने दया दिखाई.’

एक ने लिखा ‘नेहरू को गाली देना बहुत आसान है. मगर उनके जैसा बनना तुम्हारे बस की बात नहीं है सौ जन्म लेने पड़ेंगे पंडित नेहरू के जैसे बनने में, मोदी जी एक बात याद रखना इतिहास लड़ने वालों का लिखा जाता है सरेंडर करने वालों का नहीं.’