Sakshi Maharaj के बिगड़े बोल, बोले- जनसंख्या अनुपात के हिसाब से होना चाहिए कब्रिस्तान और शमशान

उन्नाव: भारतीय जनता पार्टी के लोकसभा सांसद साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है. साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने कहा है कि जनसंख्या अनुपात के हिसाब में कब्रिस्तान और श्मशान होना चाहिए. दरअसल यूपी में तीन नवंबर को 8 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव होना है और आजकल इन सीटों के लिए चुनाव प्रचार जोरों पर है.

साक्षी मराहाज (Sakshi Maharaj) ने भी इस चुनाव प्रचार अभियान के तहत बीजेपी प्रत्याशी के समर्थन में नुक्कड़ सभा के दौरान यह बयान दिया.

हमारे धैर्य की परीक्षा ना ली जाए

साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) पहले भी कई बार इस तरह के विवादित बयान दे चुके हैं. चुनाव प्रचार के दौरान नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने कहा, ‘एक भी मुसलमान है गांव में तो कब्रिस्तान बहुत बड़ा है और आप खेत की मेड या गंगा के किनारे दाह संस्कार करते हैं. घोर अन्याय नहीं है क्या ये? ये है कि हमारी धैर्य, शालीनता की परीक्षा न ली जाए. हम लोग क्या से क्या करने वाले है. अनुपात के हिसाब से कब्रिस्तान और शमशान होना चाहिए.’ साक्षी महाराज के इस बयान पर एक बार फिर से विवाद खड़ा होने के पूरे आसार हैं.

गुलाब सिंह का किया जिक्र

उन्नाव के चंद्रिका खेड़ा में क्रांतिकारी गुलाब सिंह लोधी की जन्म शताब्दी पर उन्नाव सांसद साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि गुलाब सिंह ने कोई पढ़ाई लिखाई नहीं की थी लेकिन फिर भी उनके घर के अंदर तिरंगा रहता था.

ये भी पढ़ें: अजीत डोभाल की चीन-पाक को चेतावनी, कहा-यह नया भारत, जरूरत पड़ी तो घर में घुसकर होगा प्रहार

साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने कहा, ‘जब अंग्रेजों ने चारों तरफ से नाकाबंदी कर दी थी और कोई भी उस क्षेत्र में जाने की हिम्मत नहीं कर पा रहा था. तब गुलाब सिंह लोधी ने उनकी आंखों में धूल झोंकते हुए लखनऊ के अमीनाबाद में तिरंगा झंडा फहरा कर सबको हैरान कर दिया.’