कर्ज लेना हुआ महंगा, बढ़ जाएगी EMI,आरबीआई ने लगातार चौथी बार 0.50% बढ़ाया रेपो रेट

by Waqar Panjtan

 

 

त्योहारी सीजन में आपकी ईएमआई और महंगी हो गई है.  आरबीआई ( RBI) ने लगातार चौथी बार रेपो रेट ( Repo Rate) बढ़ाने का फैसला किया है. आरबीआई ने रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी करते हुए रेपो रेट को 5.40 फीसदी से बढ़ाकर 5.90 फीसदी कर दिया है. आरबीआई की मॉनिटरी पॉलिसी की बैठक ( RBI Monetary Policy Meeting) के बाद गर्वनर शक्तिकांत दास ( Shaktikanta Das) ने ये ऐलान किया है. यानि अब पांच महीने में 1.90 फीसदी की  बढ़ोतरी हो चुकी है. 

महंगी होगी EMI
आरबीआई के इस फैसले के बाद होम लोन ( Home Loan) से लेकर कार लोन ( Car Loan) और एजुकेशन लोन ( Education) का महंगा होना तय है. वहीं जिन लोगों ने पहले से होम लोन लिया हुआ है उनकी ईएमआई और महंगी हो जाएगी. आरबीआई गर्वनर ने रेपो रेट में बढ़ोतरी का फैसला मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी की तीन दिनों की बैठक के बाद लिया है. 

महंगाई में बढ़ोतरी के चलते लिया फैसला 
28 सितंबर से मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी की बैठक की शुरूआत हुई थी. अगस्त  महीने में खुदरा महंगाई ( Consumer Price Index) दर 7 फीसदी रहा है. जिसके चलते आबीआई को महंगाई पर नकेल कसने के लिए ब्याज दरें बढ़ाने का फैसला लेना पड़ा है.  

चौथी बार कर्ज हुआ महंगा
वित्त वर्ष 2022-23 में आरबीआई महंगाई बढ़ने के बाद लगातार चौथी बार रेपो रेट में बढ़ोतरी करने का फैसला किया है. 4 मई को  रेपो रेट में 40 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी कर 4.40 फीसदी किया गया इसके बाद 8 जून को 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की गई इसके बाद अगस्त में फिर से 50 बेसिस प्वाइंट रेपो रेट बढ़ा दिया गया. और 30 सितंबर, 2022 को फिर से रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी कर दी गई. आरबीआई के इस फैसले के बाद रेपो रेट में 1.90 फीसदी की बढ़ोतरी हो चुकी है. आरबीआई के लेटेस्ट फैसले के बाद निजी से लेकर सरकारी बैंक कर्ज महंगा कर सकते हैं. 

Ⓒ 2022 Copyright and all Right reserved for Newzbulletin.in