होम टॉप न्यूज Rashtriya Kamdhenu Ayog के चेयरमैन का दावा, कहा-गाय का गोबर रोक सकता...

Rashtriya Kamdhenu Ayog के चेयरमैन का दावा, कहा-गाय का गोबर रोक सकता है मोबाइल रेडिएशन

0
243
Rashtriya Kamdhenu Ayog के चेयरमैन का दावा, कहा-गाय का गोबर रोक सकता है मोबाइल रेडिएशन
(Image Courtesy: Google)

नई दिल्ली. गाय को लेकर कई तरह के दावे किए जाते हैं. इनमें से कुछ पर विवाद हो चुका है. अब राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (Rashtriya Kamdhenu Ayog) के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया ने गाय के गोबर को लेकर एक अलग दावा किया है, जिस पर विवाद हो सकता है.

दरअसल, वल्लभभाई कथीरिया की माने तो गाय का गोबर रेडिएशन रोक सकता है, जिसका इस्तेमाल मोबाइल में होना चाहिए.

कामधेनु दीपावली अभियान की शुरुआत

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (Rashtriya Kamdhenu Ayog) के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया ने सोमवार को ‘कामधेनु दीपावली अभियान’ के राष्ट्रव्यापी अभियान के दौरान गाय के गोबर से बनी एक चिप का अनावरण किया. इस दौरान उन्होंने दावा किया कि यह चिप मोबाइल हैंडसेट से निकलने वाले रेडिएशन को काफी कम कर देता है.

Rashtriya Kamdhenu Ayog चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया ने कहा कि गाय के गोबर से बने इस चिप को अपने मोबाइल में रखते हैं, तो यह रेडिएशन को काफी कम कर देता है. अगर आप बीमारी से बचना चाहते हैं, तो इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. इस चिप को गौसत्व कवच का नाम दिया गया है. गौसत्व कवच को गुजरात के राजकोट स्थित श्रीजी गौशाला द्वारा निर्मित किया गया है.

गाय का गोबर बहुत गुणकारी

वल्लभभाई कथीरिया ने कहा कि गाय का गोबर सभी की रक्षा करेगा, यह एंटी-रेडिएशन है. यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध है. यह एक विकिरण चिप है, जिसका उपयोग विकिरण को कम करने के लिए मोबाइल फोन में किया जा सकता है. यह आपको बीमारियों से सुरक्षित रखेगा.

ये भी पढ़ें: Kim Jong Un ने रोते हुए अपने देशवासियों से मांगी माफी, कहा- आपके विश्वास पर खरा नहीं उतरा

गौरतलब है कि मत्स्य, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (Rashtriya Kamdhenu Ayog) की स्थापना केंद्र ने फरवरी, 2019 में की थी. इसका उद्देश्य ‘गायों का संरक्षण और विकास’ है. राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया हैं.