भगवान राम के नाम पर भी फ;र्जी’वाड़ा, श्रीराम जन्मभूमि ट्रस्ट के खाते से निकाले गए 6 लाख रुपये

0
290
भगवान राम के नाम पर भी फर्जीवाड़ा, राम जन्मभूमि ट्रस्ट के खाते से निकाले गए 6 लाख रुपये
(Image Courtesy: ANI)

नई दिल्ली. अयोध्या के श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खाते से कुछ जालसाजों ने 6 लाख रुपए निकाल लिए हैं. इस फर्जीवाड़े का खुलासा तब हुआ, जब 9 लाख 86 हजार रुपए का तीसरा क्लोन चेक लखनऊ के बैंक ऑफ बड़ौदा में पेमेंट के लिए लगाया. बड़ी रकम होने के कारण बैंक ने इस बार ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय से कंफर्म किया तो उन्होंने ऐसा कोई चेक जारी करने से मना कर दिया.

इसके बाद बैंक ने पेमेंट रोकते हुए इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है. वहीं, चंपत राय ने अयोध्या पुलिस से इसकी शिकायत की. इसके बाद देर शाम अयोध्या कोतवाली में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया.

धोखाधड़ी का मामला दर्ज

पुलिस क्षेत्राधिकारी अयोध्या राजेश राय का कहना है कि देर शाम शिकायत के बाद धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और पूरे मामले की जांच की जा रही है. बताया जाता है कि इस धोखाधड़ी की शुरुआत 1 सितंबर को उस समय हुई, जब श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खाते का एक क्लोन चेक लखनऊ के एक बैंक मैं लगाया गया. यह चेक ढाई लाख रुपए का था.

ये भी पढ़ें : भारतीय वायु सेना को राफेल मिलने से पाकिस्तान में मचा हड़कंप, चीन से मांगी मदद

छोटी रकम होने के कारण इस चेक का वेरिफिकेशन नहीं हुआ और यह रकम पास हो गई. इसके दो दिन बाद इसी तरह लखनऊ के ही उसी बैंक में साढे तीन लाख रुपए का एक और क्लोन चेक लगाया गया और यह चेक भी पास हो गया.

अब तक 6 लाख रुपए उड़ाए

इस तरह श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का 6 लाख रुपया जालसाजों ने हड़प लिया, लेकिन 9 सितंबर को जब लखनऊ के बैंक ऑफ बड़ौदा ब्रांच में 9 लाख 86 हजार रुपए का तीसरा चेक पेमेंट के लिए लगाया गया तो बड़ी रकम होने के कारण इस बार बैंक ने ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय को कन्फर्म करने के लिए फोन किया.

इसके बाद चंपत राय ने ऐसा कोई चेक जारी करने से मना किया और इसके बाद उन्होंने अयोध्या पुलिस को इसकी जानकारी दी. अयोध्या पुलिस ने देर शाम इस धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया है और जांच पड़ताल शुरू कर दी है. अयोध्या क्षेत्राधिकारी राजेश राय ने बताया कि इस पूरी धोखाधड़ी की जांच की जा रही है.