Rajasthan ACB: दरवाजे पर खड़ी थी एसीबी की टीम, घूसखोर तहसीलदार ने चूल्हे में जला दिए 15 लाख के नोट

जयपुर. भारत में तमाम कोशिशों के बाद घूसखोरी के मामले कम नहीं हो रहे. राजस्थान में एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एसीबी (Rajasthan ACB) की टीम छापा मारने पहुंची तो एक तहसीलदार ने घर के चूल्हे पर ही 15 लाख के नोट जला दिए. दरअसल, पूरा मामला सिरोही जिले के पिंडवाड़ा तहसील का है. यहां भू अभिलेख निरीक्षक परबत सिंह को एसीबी की टीम ने एक लाख रुपए की घूस लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया था.

एसीबी (Rajasthan ACB) से पूछताछ में परबत सिंह ने बताया कि यह रिश्वत पिंडवाड़ा तहसीलदार कल्पेश जैन के लिए मांगी गई थी. इसके बाद स्थानीय पुलिस के साथ ACB की टीम कल्पेश जैन के घर पहुंची. एसीबी की पूरी टीम तहसीलदार के घर के बाहर खड़ी थी, लेकिन पुलिस अधिकारियों को देख तहसीलदार ने खुद को कमरे में बंद कर लिया.

चाय बनाने के बहाने जला डाले नोट

इसी बीच तहसीलदार ने दस्तावेजों और रिश्वत में मिले नोटों को चूल्हे पर रख कर आग लगा दी. कमरे से धुंआं उठता देख जब ACB की टीम ने उससे इसके बारे में पूछा तो उसने कहा कि चाय बन रही है. एसीबी (Rajasthan ACB) की टीम तहसीलदार को रुकने के लिए कहती रही, लेकिन तहसीलदार चूल्हे पर चाय बनने का बहाना कर नोट जलाता रहा. आखिरकार कमरे का दरवाजा तोड़ ACB की टीम अंदर घुसी और तहसीलदार को गिरफ्तार कर लिया.

ये भी पढ़ें: 3 करोड़ रुपए में मिल रहा दुनिया का सबसे महंगा हेलमेट

एसीबी (Rajasthan ACB) के मुताबिक तहसीलदार कल्पेश जैन ने 15 लाख रुपये से अधिक की नकदी जला दी. ACB के हाथ अधजले नोट और काफी दस्तावेज लगे हैं. ACB की टीम ने आंवले की छाल का ठेका दिलाने की एवज में मांगी गई एक लाख रुपये की रिश्वत के आरोप में घूसखोर तहसीलदार कल्पेश जैन को हिरासत में ले लिया. घर से डेढ़ लाख रुपये की नकदी बरामद हुई है. इतना ही नहीं कई प्लॉटों के कागजात, 8 बैंक के खाते, तीन पोस्ट ऑफिस के खाते और कई बैंक लॉकर की भी जानकारी एसीबी को मिली है. फिलहाल एसीबी की टीम ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.