PM मोदी की सुरक्षा में चूक पर बोले राकेश टिकैत- ‘सहानुभूति बटोरने का सस्ता स्टंट’

नई दिल्ली: पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की सुरक्षा में चूक (PM Security Breach) का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) भी घटना को लेकर चिंता जाहिर कर चुके हैं। वहीं, अब इस घटनाक्रम पर किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) का विवादित बयान सामने आया है।

राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने इस घटनाक्रम को स्टंट बताया और कहा कि यह जनता की सहानुभूति हासिल करने का सस्ता तरीका खोजने की कोशिश है।

बुधवार के दिन पीएम नरेंद्र मोदी (PM Security Breach) का फिरोजपुर दौरा पूर्व प्रस्तावित था। लेकिन वे प्रदर्शनकारियों के रास्ता रोके जाने के कारण जनसभा तक नहीं पहुंच पाए और वापस लौट गए। इस दौरान पीएम मोदी के साथ पंजाब में सुरक्षा को लेकर भारी चूक का मामला सामने आया है।

यहां तक कि पीएम मोदी ने बठिंडा एयरपोर्ट पहुंचकर घटनाक्रम पर नाराजगी जाहिर की और एयरपोर्ट अधिकारियों से कहा कि अपने सीएम को थैंक्स कहना कि मैं यहां तक जिंदा लौट आया।

इस घटना को लेकर पंजाब की चरणजीत सिंह चन्नी सरकार की काफी किरकिरी हो रही है। अब मामले में भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत का बयान सामने आया है।

राकेश टिकैत का कहना है, “जब पीएम पंजाब आ रहे थे तो उन्होंने सुरक्षा को लेकर क्या इंतजाम किए थे? उनके सुरक्षित लौटने की खबर से साफ हो जाता है कि यह एक स्टंट था। यह जनता की सहानुभूति हासिल करने का सस्ता तरीका खोजने की कोशिश थी।”

गौरतलब है कि पीएम मोदी फिरोजपुर रैली में 42,750 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का ऐलान करने जा रहे थे, लेकिन उनका एक काफिला फ्लाईओवर पर 20 मिनट तक फंसा रहा। यह घटना किसानों के एक संगठन की ओर से प्रदर्शन के चलते हुई।

पीएम मोदी के काफिले के फंसने को सुरक्षा में गंभीर चूक का मामला माना गया और इसे लेकर भाजपा ने कांग्रेस की पंजाब सरकार पर तीखा हमला बोला। इससे पहले गुरुवार को सुबह यह मामला सुप्रीम कोर्ट में भी पहुंच गया। इसके अलावा पंजाब सरकार की ओर से सुरक्षा में चूक की जांच के लिए एक हाईलेवल कमिटी के गठन का भी फैसला लिया गया है।