PM Modi take Covid Vaccine: पीएम मोदी ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, विपक्ष के सवालों पर लगाया विराम

0
521
PM Modi take Covid Vaccine: पीएम मोदी ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, विपक्ष के सवालों पर लगाया विराम
PM Modi take Covid Vaccine: पीएम मोदी ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, विपक्ष के सवालों पर लगाया विराम (Image Source: Google)

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi take Covid Vaccine) ने सोमवार की सुबह दिल्ली के एम्स अस्पताल में जाकर कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक लगवा ली है। पीएम मोदी वैक्सीन लगवाने के साथ ही विपक्ष और मेड इन इंडिया वैक्सीन (Made in India Vaccine) पर सवाल उठाने वालों के मुंह पर ताला भी जड़ दिया है।

बता दें कि भारत बायोटेक की बनाई ‘कोवैक्सिन’ का शॉट आज पीएम मोदी (PM Modi take Covid Vaccine) को एम्स अस्पताल में दिया गया। इसी मेड इन इंडिया वैक्सीन (Made in India Vaccine) पर विपक्ष के कई नेता और कई स्वास्थ्यकर्मी सवाल उठा चुके हैं।

ट्विटर पर दी जानकारी

सोमवार की सुबह नौ बजे से देशभर में कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा फेज शुरू हो गया है। पीएम मोदी सुबह-सुबह वैक्सीन (PM Modi take Covid Vaccine) लगवाने पहुंचे। वैक्सीनेशन के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि एम्स में कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज ली। हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को कम समय में मजबूत बनाने के लिए उल्लेखनीय काम किया है। मैं उन सबसे अपील करता हूं कि जो लोग कोरोना टीका लगाने के लिए योग्य हैं वे वैक्सीन लें। आइए, साथ मिलकर भारत को कोविड-19 मुक्त बनाएं।

कांग्रेस ने कहा था पीएम मोदी लगवाएं वैक्सीन

बता दें कि भारत में जब कोरोना वैक्सीनेशन का पहला चरण शुरू हुआ था, तब कांग्रेस के कई नेताओं ने कोवैक्सिन की विश्वसनीयता पर सवाल उठाए थे। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने तो यहां तक कहा था कि वैक्सीन के प्रति भरोसा पैदा करने के लिए सबसे पहले पीएम मोदी को टीका लगवाना (PM Modi take Covid Vaccine) चाहिए। हालांकि, उस वक्त स्पष्ट कर दिया गया था कि पीएम मोदी अपनी बारी आने पर ही टीका लगवाएंगे।

थरूर ने भी उठाए थे सवाल

कोवैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दिए जाने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी सवाल उठाए थे। थरूर ने कहा था कि कोवैक्सीन का अभी तक तीसरे चरण का ट्रायल नहीं हुआ है, बिना सोच-समझे अनुमति दी गई है जो कि ख़तरनाक हो सकती है

अखिलेश ने बताया था बीजेपी की वैक्सीन

दूसरी तरफ, समाजवादी पार्टी प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा था कि मैं बीजेपी की कोरोना वैक्सीन को नहीं लगवाऊंगा। मुझे इनकी वैक्सीन पर भरोसा नहीं है। अखिलेश यादव ने भारत सरकार की कोरोना वैक्सीन को बीजेपी का वैक्सीन करार दिया था।

ये भी पढ़ें: Two Wheeler Mileage Problem: आपकी इन 3 गलतियों के कारण घटता है बाइक का माइलेज, अपनाएं ये टिप्स

डॉक्टरों ने भी जाहिर की थी आशंका

भारत बायोटेक की कोवैक्सिन को लेकर दिल्ली के आरएमएल अस्पताल के डॉक्टरों ने भी आशंका जाहिर की थी। अस्पताल के डॉक्टरों ने एक पत्र मेडिकल सुपरिटेंडेंट को लिखा था। कोवैक्सिन को जब इस्तेमाल की मंजूरी मिली थी तब तक इसके तीनों चरण का ट्रायल पूरा नहीं हुआ था। डॉक्टरों ने कोविशील्ड वैक्सीन लगवाने की मांग की थी।

हालांकि, सरकार ने हमेशा यह कहा है कि कोवैक्सिन सुरक्षित है और इसके कोई खास साइड इफेक्ट्स नहीं है। वहीं आज वैक्सीनेशन के दूसरे चरण की शुरुआत होते ही पीएम मोदी ने कोरोना वैक्सीन लगवाकर (PM Modi take Covid Vaccine) सबके मुंह पर ताला जड़ दिया है।