पीएम मोदी को काला झंडा दिखाने वाली महिला को बदमाशों ने मारी गोली, जांच में जुटी पुलिस

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को काला झंडा दिखाने वाली महिला रीता यादव (Rita Yadav) को अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी है।

गोली महिला के पैर में लगी है, जिससे महिला घायल हो गई है। महिला को इलाज के लिए पहले सीएचसी लंभुआ में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे सुल्तानपुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

जानकारी के मुताबिक, सीओ लंभुआ सतीश चंद्र शुक्ला ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच पड़ताल करते हुए महिला का बयान दर्ज किया। उन्होंने टेलीफोन पर बताया कि मामला संज्ञान में है, रीता यादव के पैर में गोली लगी है, कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

घायल रीता यादव ने मीडिया को दिए बयान में कहा है, “मैं पोस्टर-बैनर बनवाने सुल्तानपुर गई थी, वहां से घर जा रही थी। उसी समय हाईवे पर लंभुआ के पास तीन लोगों ने ओवर टेक करके मेरी गाड़ी को रोका और गाली देते हुए जान से मारने की धमकी दी। मेरे ड्राइवर की कनपटी पर पिस्टल लगा दिया। जब मैंने उन्हें इस पर एक तमाचा मारा तो उन्होंने मुझे गोली मार दी। गोली मेरे पैर में लगी है और बदमाश भाग निकले।”

आपको बता दें कि 16 नवंबर, 2021 को पीएम मोदी पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के लोकार्पण के लिए सुल्तानपुर के कूरेभार स्थित अरवल कीरी में आए थे। पीएम मोदी ने यहां एक जनसभा को संबोधित किया था, उसी दौरान रीता यादव ने उन्हें काला झंडा दिखाया था। उसके बाद पुलिस ने महिला को गिरफ्तार करके जेल भेजा था और दो दिनों बाद उसकी बेल हो गई थी।

इस घटना के एक महीना बाद तक महिला समाजवादी पार्टी में रहीं, लेकिन 17 दिसंबर, 2021 को उन्होंने कांग्रेस ज्वॉइन कर लिया।