Mann Ki Baat: मन की बात में PM मोदी ने चेताया- त्योहारों के दौरान कोरोना नियमों को न भूलें

NewzBulletin Desk: पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज सुबह 11 बजे अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ (Mann ki Baat) के जरिए राष्ट्र को संबोधित किया। कार्यक्रम (Mann ki Baat) के दौरान पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) में गए भारतीय दल को चियर करने की अपील की है।

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि टोक्यो (Tokyo Olympic) गए देश के खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाना जरूरी है। पीएम मोदी (Mann ki Baat) ने कारगिल युद्ध से लेकर अमृत महोत्सव और स्वतंत्रता दिवस के बारे में चर्चा की। पीएम मोदी ने अपने संबोधन के अंत में कहा कि त्योहारों के दौरान यह भूले नहीं कि कोरोना हमारे बीच से गया नहीं है। कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें।

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने इस दौरान (Mann ki Baat) कहा कि जो देश के लिए तिरंगा उठाता है, उसके सम्मान में, भावनाओं से भर जाना स्वाभाविक ही है। कल यानि 26 जुलाई को करगिल विजय दिवस भी है। करगिल का युद्ध, भारत की सेनाओं के शौर्य और संयम का ऐसा प्रतीक है जिसे पूरी दुनिया ने देखा। इस बार ये गौरवशाली दिवस भी अमृत महोत्सव के बीच मनाया जाएगा। इसलिए ये और भी खास हो जाता है। मैं चाहूंगा कि आप करगिल के रोमांचित कर देने वाली गाथा जरूर पढ़ें, करगिल के वीरों को हम सब नमन करें। पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि राष्ट्रगान को लेकर 15 अगस्त को अनोखा प्रयास किया जाएगा।

आप लोगों से मिला सुझाव ही ‘मन की बात’ की असली ताकत

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि आप लोगों से मिले सुझाव ही ‘मन की बात’ की असली ताकत है। आपके सुझाव ही मन की बात के माध्यम से भारत कि विविधिता को प्रकट करते हैं, भारवासियों के सेवा और त्याग के खुशबू को चारों दिशाओं में फैलाति हैं। हमारे मेहनतकश युवाओं के इनोवेशन से सब को प्रेरित करते हैं। मन की बात में आप की कई तरह के आइडिया भेजते हैं। हम सभी पर तो नहीं चर्चा कर पाते हैं, लेकिन उनमें से बहुत आइडिया को मैं संबंधित विभागों को जरूर भेजता हूं ताकि उन पर आगे का काम किया जा सके।

मणिपुर और लखीमपुर खीरी का पीएम ने किया जिक्र

पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में मणिपुर में बढ़ रही सेब की खेती का भी जिक्र किया। खेती में नए काम हो रहे हैं और लोगों की रचनात्मकता भी बढ़ रही है। उन्होंने लखीमपुर खीरी में महिलाओं को केले के तने से फाइबर बनाने की ट्रेनिंग देने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि केले के आटे से केरल में गुलाबजामुन और डोसा बनाए जा रहे हैं। इनकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर शेयर भी किया गया है। लखीमपुर खीरी की तरह यहां भी नए इनोवेशन को महिलाएं लीड कर रही हैं। पीएम मोदी ने कहा कि ऐसी नई चीजों को देखने जाइए और संभव हो तो इसका प्रयोग भी कीजिए।

परोपकार करने वाला ही असल में जीता है- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि अपने लिए तो संसार में हर कोई जीता है। असल में जो परोपकार के लिए जीता है वो ही असल में जीता है। पीएम मोदी ने इस दौरान चंडीगढ़ के संजय राणा का जिक्र किया जो कोरोना वैक्सीन लगवाने वाले लोगों को फ्री में छोटे भटूरे दे रहे हैं। इन बातों से पता चलता है कि हम नौकरी के साथ- साथ परोपकार का भी काम कर सकते हैं।

कोरोना प्रोटोकॉल का करें पालन

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि त्योहारों के समय में यह ध्यान रखना है कि कोरोना वायरस हमारे बीच से गया नहीं है। इसलिए जरूरत है कि हम कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें।

बता दें कि मन की बात कार्यक्रम का यह कार्यक्रम का 79वां एपिसोड था। इससे पहल 78वें एपिसोड में पीएम मोदी ने टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों के लिए चियर करने की अपील की थी। उन्होंने कहा था कि हमारे देश में तो अधिकांश खिलाड़ी छोटे-छोटे शहरों, कस्बों, गांवों से निकल कर आते हैं। जब टैलेंट, डेडिकेशन, डेटर्मिनेशन और स्पोर्ट्समैन स्पिरिट एकसाथ मिलते हैं तब जाकर कोई चैम्पियन बनता है।

पीएम ने कहा था कि टोक्यो जा रहे हर खिलाड़ी का अपना संघर्ष रहा है। कई साल की मेहनत रही है। वो केवल अपने लिए नहीं जा रहे बल्कि देश के लिए जा रहे हैं। हमें जाने-अनजाने में इन खिलाड़ियों पर दबाव नहीं बनाना, खुले मन से इनका साथ देना है। हर खिलाड़ी का उत्साह बढ़ाना है।