पीएम मोदी ने किया अन्नदाताओं को सलाम, कहा-कोरोना काल में किसानों ने मेहनत से जीती जंग

नई दिल्ली। पीएम मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम में देश के अन्नदाताओं को नमन किया। कोरोना संकट काल में किसानों के अथक परिश्रम और उसके फल को लेकर पीएम मोदी ने आज ‘मन की बात’ में चर्चा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के किसानों ने कोरोना जैसी संकट घड़ी में खुद को साबित किया है।

पीएम मोदी ने इस दौरान ऋग्वेद के एक मंत्र का उल्लेख करते हुए किसानों के सम्मान में कई बातें कहीं।

किसान को नमन

पीएम मोदी ने कहा, ऋगवेद में मंत्र है- अन्नानां पतये नमः, क्षेत्राणाम पतये नमः। अर्थात अन्नदाता को नमन है। किसान को नमन है। उन्होंने कहा कि किसानों ने कोरोना जैसे कठिन समय में अपनी ताकत को साबित किया है। उन्होंने जानकारी दी कि देश के किसानों की मेहनत की बदौलत हमारे देश में इस बार खरीफ की फसल की बुआई पिछले साल के मुकाबले 7% ज्यादा हुई है।

उन्होंने बताया कि हमारे देश में इस बार खरीफ की फसल की बुआई पिछले साल के मुकाबले 7% ज्यादा हुई है। धान इस बार 10%, दालें 5%, मोटे अनाज लगभग 3%, ऑयलसीड लगभग 13%, कपास लगभग 3% बोए गए हैं। इसके लिए मैं देश के किसानों को बधाई देता हूं।

हमारे त्योहार किसानों की मेहनत का नतीजा

पीएम मोदी ने कहा, हमारे जीवन और समाज को कृषि की शक्ति से संचालित किया जाता है। हमारे त्योहार हमारे किसानों की कड़ी मेहनत के माध्यम से ही अपना रंग निखारते हैं। वेद ने हमारे किसानों की जीवन-ऊर्जा का भी शानदार वर्णन किया है। उन्होंने कहा कि ओणम त्यौहार के मौके को हर जगह महसूस किया जा सकता है और यह एक अंतर्राष्ट्रीय त्योहार है।

प्रधानमंत्री ने कहा, ओणम का उत्साह आज विदेशी भूमि के दूर के किनारों तक पहुंच गया है। चाहे वह अमेरिका हो, यूरोप हो या खाड़ी के देश हों, ओणम का कहर हर जगह महसूस किया जा सकता है। ओणम तेजी से एक अंतर्राष्ट्रीय त्योहार बन रहा है।