भारत के इस कदम से कांप रहा पाकिस्तान, बॉर्डर पर BSF दे रही मुंहतोड़ जवाब

:भारतीय सीमा में आये दिन पाकिस्तान की तरफ से ड्रोन की घुसपैठ को रोकने के लिए बार्डर सिक्योरिटी फोर्स ( BSF) ने एक ऐसा रास्ता ढूढ़ निकाला है जिससे सीमा पार आतंकियों में खलबली मच गई है. सीमा पार से जैसे ही भारतीय सीमा में पाकिस्तानी ड्रोन के आने की जानकारी मिलती है अलर्ट बीएसएफ के जवान इन ड्रोन को देखते ही मार गिरा देते हैं.

दुश्मन के ड्रोन के खिलाफ बीएसएफ की इस कामयाबी से सीमा पार बैठे आतंकियों के आका परेशान हो गये हैं.

बीएसएफ की एक रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि पिछले एक साल में पंजाब से लगती पाकिस्तानी सीमा पर बीएसएफ ने दुश्मन के 22 ड्रोन को मार गिराने में कामयाबी हासिल की हैं.

साल 2022 में जिन 22 ड्रोन को मारा गया है उनमें से 10 ड्रोन को बीएसएफ ने पिछले साल 6 नवंबर से 21 दिसंबर के बीच ढेर कर दिया है. यही वजह है कि पंजाब में ड्रग्स और हथियारों की सप्लाई में लगे सीमा पार से क्रिमिनल और आतंकी परेशान हो गये हैं.

सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बीएसएफ को ड्रोन मार गिराने में जो बड़ी कामयाबी हाथ लग रही है उसके पीछे सबसे बड़ी वजह सभी सुरक्षा एजेंसियों में बेहतर तालमेल होने के साथ-साथ आधुनिक तकनीक का योगदान है.

बीएसएफ, National Technical Research Organisation (NTRO) समेत केन्द्रीय खुफिया एजेंसियों ने पाकिस्तानी ड्रोन के गतिविधियों की पूरी जानकारी जुटा कर उन जगहों पर अपने ऑपरेशन को केंद्रित कर रही है जिन जगहों पर सबसे ज्यादा ड्रोन के आने की जानकारी मिल रही है.

यही नहीं बीएसएफ ने हाल ही के दिनों में जिन पाकिस्तानी ड्रोन को ऑपरेशन में जब्त किया है उनसे बरामद चिप का टेक्निकल एनालिसिस कर ऐसे ड्रोन के रूट प्लान की अहम जानकारी जुटा ली है. जिसकी वजह से बीएसएफ बेहतर तरीके से दुश्मन के ड्रोन प्लान से निपट रही है.

ड्रोन ऑपरेशन पर नज़र रखने वाले अधिकारियों के मुताबिक पंजाब से लगती पाकिस्तानी सीमा के कई सीक्रेट लोकेशन पर ड्रोन हंटिग टीम के साथ-साथ एंटी ड्रोन सिस्टम को तैनात किया गया है.

एंटी ड्रोन सिस्टम की सबसे खास बात ये है कि ये किसी भी मौसम में दुश्मन के सिग्नल को जैम कर देता है जिससे पाकिस्तानी ड्रोन सीधे आसमान से जमीन पर गिरते हैं. पिछले एक महीने में पंजाब सीमा पर पड़ रही धुंध के दौरान भी जिस तरह से बीएसएफ ने दुश्मन के ड्रोन गिराए हैं उससे पाकिस्तान में बैठे आतंकियों के आका परेशान हो गये हैं.

बीएसएफ की रिपोर्ट के मुताबिक साल 2022 में बीएसएफ ने पाकिस्तान सीमा से सटे पंजाब से जहां 29 पाकिस्तानी लोगों को पकड़ा है वहीं करीब 241 किलो ड्रग्स की रिकवरी की है. साथ ही 51 हथियारों के साथ-साथ 751 गोला बारुद बरामद किये हैं.

जिन ड्रग्स और हथियारों को सीमा पर बरामद किया गया है उनमें से बड़ी तादाद ड्रोन से मिली है जो सीमा पार से आकर भारतीय सीमा में इन ड्रोन के जरिये हथियारों और ड्रग्स की सप्लाई करते हैं. दुश्मन देश के ड्रोन की साजिश का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि पिछले साल जम्मू से लेकर पूरे पाकिस्तान सीमा पर 311 बार पाकिस्तानी ड्रोन ने भारतीय सीमा को लांघने की साजिश की थी.

जानकारों के मुताबिक जिस तरह से जम्मू के अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ-साथ एलओसी (लाइन ऑफ कंट्रोल) पर बीएसएफ और सेना ने कड़ी निगरानी बढा दी है उसकी वजह से पाकिस्तान की आईएसआई ड्रोन के जरिये भारतीय सीमा में ड्रग्स और हथियारों की सप्लाई कर रही है.

सुरक्षा एजेंसियों को शक है कि पंजाब को अशांत करने के लिए आईएसआई बड़े पैमाने पर साजिश रच रही है और यही वजह है कि इसके लिए ड्रोन का सहारा लिया जा रहा है. खुफिया एजेंसियों को शक है कि जम्मू-कश्मीर में मौजूद आतंकियों को हथियार पहुंचाने के लिए पंजाब के क्रिमिनल का भी सहारा लेने की कोशिश हो सकती है. ऐसे में ये जरूरी है कि भारतीय सीमा में दुश्मन देश के ड्रोन को पूरी तरह से घुसपैठ को रोक दिया जाये.