किम जोंग उन की एक और तानाशाही, उत्तर कोरिया में लोगों के हंसने और शराब पीने पर लगा बैन!

नई दिल्ली: उत्तर कोरिया (North Korea) अपने सनकी तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) की वजह से अक्सर चर्चा में रहता है। किम जोंग उन सरकार ने एक बार फिर एक तानाशाही भरा फैसला लिया है।

दरअसल, पूरे उत्तर कोरिया में लोगों के अगले 11 दिनों तक हंसने और शराब पीने पर बैन लगा दिया गया है।

इसके पीछे तर्क दिया गया है कि इस साल पूर्व नेता किम जोंग इल की मृत्यु की दसवीं वर्षगांठ है। सरकारी अधिकारियों ने जनता को आदेश दिया है कि जब तक उत्तर कोरिया उनकी मृ’त्यु का शोक मना रहा है, तब तक वे खुशी वाले कामों को न करें।

किम जोंग इल ने 1994 से 2011 में अपनी मृत्यु तक उत्तर कोरिया पर शासन किया। इसके बाद उनके तीसरे और सबसे छोटे बेटे और वर्तमान नेता किम जोंग उन ने सत्ता संभाली।

किम जोंग इल की मौत की दस साल बाद उत्तर कोरियाई लोगों को 11 दिनों के शोक की अवधि का पालन करने के लिए मजबूर किया जा रहा है। उन्हें हंसने और शराब पीने की अनुमति नहीं है।

उत्तरपूर्वी सीमावर्ती शहर सिनुइजू के एक उत्तर कोरियाई सूत्र ने मीडिया से बात करते हुए बताया, शोक की अवधि के दौरान, हमें शराब नहीं पीनी चाहिए, हंसना नहीं चाहिए और मनोरंजन की गतिविधियों में शामिल नहीं होना चाहिए। सूत्रों ने कहा कि उत्तर कोरियाई लोगों को किम जोंग इल की मौत की बरसी पर 17 दिसंबर को किराने की खरीदारी करने की अनुमति नहीं है।

रोने की इजाजत नहीं

बताया जा रहा है कि पहले शोक की अवधि में शराब पीते या नशा करते पकड़े गए लोगों को गिरफ्तार किया गया और उनके साथ अपराधियों जैसा व्यवहार किया गया। उन्हें कहीं पर ले जाया गया और फिर वे कभी दुनिया के सामने नहीं आ पाए।

उन्होंने आगे बताया कि यदि शोक की अवधि में आपके परिवार के किसी सदस्य की मौत भी हो जाती है, तो भी आपको जोर से रोने की इजाजत नहीं है। शोक अवधि समाप्त होने के बाद शव को ले जाया जाएगा। शोक की अवधि के दौरान जिन लोगों को जन्मदिन आएगा, उन्हें इसे मनाने की अनुमति भी नहीं दी गई है।