Namami Gange Mission के तहत PM मोदी ने किया उत्तराखंड में 6 मेगा परियोजनाओं का उद्घाटन

नई दिल्ली. गंगा सफाई अभियान के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को ‘नमामि गंगे मिशन’ (Namami Gange Mission) के तहत उत्तराखंड में छह मेगा परियोजनाओं का वीडियो कांफ्रेंसिंग से उद्घाटन किया. इस दौरान पीएम मोदी किसानों के प्रदर्शन पर भी बोले.

उन्होंने दिल्ली में ट्रैक्टर जलाने की घटना पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि किसान जिसकी पूजा करता है, विपक्ष ने उसे भी नहीं छोड़ा

किया हर घर शुद्ध जल का वादा

नमामि गंगे मिशन (Namami Gange Mission) के तहत परियोजनाओं का शुभारंभ करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जल जीवन मिशन से हर घर तक शुद्ध जल पहुंचाया जाएगा. गंगा हमारी विरासत का प्रतीक है, गंगा देश की आधी आबादी को समृद्ध करती है. पहले भी गंगा की सफाई को लेकर बड़े अभियान चलाए, लेकिन उनमें जनभागीदारी नहीं थी. अगर वही तरीके अपनाते तो गंगा साफ ना होती. साफ पानी को लेकर पीएम ने कहा कि अब उत्तराखंड में एक रुपये में पानी का कनेक्शन मिल रहा है.

ये भी पढ़ें Babri Case पर फैसले से पहले Uma Bharti ने भरी हुंकार, कहा-मुझे जेल जाना मंजूर पर नहीं लूंगी जमानत

पीएम मोदी ने कहा कि नमामि गंगे मिशन (Namami Gange Mission) के तहत अब गंगा जल में गंदे पानी को गिरने से रोका जा रहा है. ये प्लांट भविष्य को देखते हुए बनाए गए, साथ ही गंगा के किनारे बसे सौ शहरों को खुले में शौच से मुक्त किया. गंगा के साथ सहायक नदियों को साफ किया जा रहा है. पीएम ने कहा कि नमामि गंगे के तहत 30 हजार करोड़ से अधिक योजनाओं का काम चल रहा है.

विपक्ष पर साधा निशाना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि पहले दिल्ली में फैसले होते थे, लेकिन जल जीवन मिशन से अब गांव में ही फैसला हो रहा है. पीएम ने कहा कि विरोध करने वाले किसानों को आजाद नहीं होने देना चाहते हैं, किसान जिनकी पूजा करता है उसे ही आग लगाई जा रही है. पीएम मोदी ने कहा कि देश में MSP रहेगी और विपक्ष जो MSP पर दावा कर रहा है वो झूठा है.

पीएम ने कहा कि पहले उत्तराखंड में 130 नाले गंगा में गिरते थे, लेकिन अब इन्हें रोक दिया गया. नमामि गंगे मिशन (Namami Gange Mission) के तहत  प्रयागराज कुंभ में गंगा की सफाई लोगों ने सराहा और अब हरिद्वार कुंभ के लिए भी आगे प्रयास हो रहे हैं. मोदी बोले कि अब किसानों को जैविक खेती की ओर आकर्षित किया जा रहा है. साथ ही मैदानी इलाकों में मिशन डॉल्फिन से मदद मिलेगी. पीएम ने कहा कि पहले पैसा पानी की तरह बहता था, लेकिन सफाई नहीं होती थी. अब पैसा ना पानी में बहता है और ना पानी की तरह बहता है.