मस्जिद के लिए मिली जमीन पर राजा दशरथ के नाम से बनना चाहिए अस्पताल: शायर मुन्नवर राणा

0
475
Munawwar Rana
(Image Courtesy: Google)

लखनऊ। जाने-माने शायर मुन्नवर राणा (Munawwar Rana) ने अयोध्या राम जन्मभूमि मामले में मुस्लिम पक्षकारों को मस्जिद (Ayodhya Masjid) के लिए मिली पांच एकड़ जमीन पर राजा दशरथ के नाम अस्पताल बनवाने की मांग की है।

शायर मुन्नवर राणा ने इस संबंध में पीएम नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा है।

पीएम को भेजा पत्र

प्रधानमंत्री को भेजे पत्र में राणा ने कहा है कि मस्जिद का निर्माण जबरदस्ती हासिल की गई जमीन पर नहीं होता। मुन्नवर ने रायबरेली में पुरखों की बनवाई मस्जिद का हवाला दिया है।

उन्होंने कहा कि मस्जिद सैकड़ों वर्ष पुरानी है। इसकी इमामत का सम्मान औरंगजेब के जमाने से हासिल है। मौजूदा समय में उनके परिवार के पास इस मस्जिद और ईदगाह की देखरेख का जिम्मा है।

मुनव्वर ने कहा कि रायबरेली में सई नदी के किनारे हमारी 5.5 बीघा जमीन है। उसकी खूबसूरती उस वक्त और बढ़ जाएगी। जब वुजू खाने के लिए सई नदी के किनारे लगा एक चबूतरा बनवा दिया जाए।

उन्होंने लिखा, यह जमीन मेरे बेटे तबरेज राणा के नाम पर है। मैं चाहता हूं कि इस जमीन पर बाबरी मस्जिद की एक ऐसी शानदार इमारत बनायी जाए, जिससे दुनिया के जो लोग इस तरफ से गुजरें, वह आलमगीरी मस्जिद और बाबरी मस्जिद का दीदार कर सकें।

नए मुस्लिम वक्फ बोर्ड के गठन की मांग

राणा ने पत्र में लिखा है कि नए मुस्लिम वक्फ बोर्ड का गठन करके जितनी भी वक्फ संपत्तियां हैं। उन्हें इस नए वक्फ बोर्ड से जोड़ दिया जाए। मुझे उम्मीद है कि कोर्ट मुसलमानों की वक्फ की सम्पत्तियों, जिन पर नाजायज कब्जे हैं। उन्हें मुस्लिम समाज को कम से कम समय में दिलाने का कष्ट करें, ताकि मस्जिद और अस्पताल के प्रॉजेक्ट पूरा कर सकें।