योगी सरकार का Mukhtar Ansari परिवार पर शिकंजा, पत्नी और 2 सालों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

गाजीपुर. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) ने मुख्तार अंसारी के पूरे परिवार पर शिकंजा कस दिया है. मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की जा चुकी है. उनके दो बेटों की गिरफ्तारी पर इनाम घोषित हो चुका है.

अब गाजीपुर में मुख्तार की पत्नी और 2 सालों के खिलाफ योगी सरकार ने कोर्ट के जरिए गैर जमानती वारंट जारी करवा दिया है.

कोर्ट ने जारी किया है एनबीडब्ल्यू

गाजीपुर की गैं’ग स्टर कोर्ट ने ये गैर जमानती वारंट जारी किया है. गाजीपुर एसपी ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि मुख्तार की पत्नी आफसा अंसारी के खिलाफ गैर जमानती वारंट किया गया है. इसके अलावा आफसा के भाइयों सरजील रजा, अनवर शहजाद के खिलाफ भी एनबीडब्ल्यू जारी किया गया है.

परिवार समेत फरार है Mukhtar Ansari

Mukhtar Ansari इस मामले में पहले से फरार हैं. अब मुख्तार की पत्नी आफसा, सरजील रजा और अनवर शहजाद फरार चल रहे हैं. मुख्तार की पत्नी आफसा पर कुर्क जमीन पर अ वै’ध कब्जे का केस दर्ज है. वहीं सरजील रजा, अनवर शहजाद पर सरकारी ठेका हासिल करने के लिए फ र्जी दस्तावेज लगाने का केस दर्ज है. आफसा अंसारी पर सरकारी धन गबन करने का भी केस है. तीनों पर गैं ग’स्टर का केस भी दर्ज है.

ये भी पढ़ें : Arnab Goswami की Uddhav Thackeray को खुली चुनौती, टीवी पर बोले-उद्धव जी…आपके पास सिर्फ एक घंटा है

मुख्तार के बेटों पर लखनऊ पुलिस घोषित कर चुकी है इनाम

उधर, लखनऊ पुलिस ने मुख्तार के दोनों बेटों अब्बास और उमर अंसारी पर शिकंजा कस दिया है. दोनों पर 25-25 हजार का इनाम घोषित किया गया है. जल्द ही दोनों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर उनकी गिरफ़्तारी की जाएगी.

लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बताया कि यह कार्रवाई सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण के मामले में दर्ज मुकदमे में की गई है. उन्होंने कहा कि इस मामले में गैर जमानती वारंट के लिए प्रार्थना पत्र कोर्ट में दिया गया है. बता दें कि इस मामले में जियामऊ के लेखपाल सुरजन लाल ने मुख्तार अंसारी और उनके बेटे उमर व अब्बास के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में जालसाजी, सा जिश रचने, जमीन पर अ वै ध कब्जा करने के आरोप में केस दर्ज कराया था.