होम टॉप न्यूज BJP Tiranga Yatra Kashmir: Mehbooba Mufti के बयान से चढ़ा BJP का...

BJP Tiranga Yatra Kashmir: Mehbooba Mufti के बयान से चढ़ा BJP का पारा, श्रीनगर में PDP ऑफिस पर फहराया तिरंगा

0
339
BJP Tiranga Yatra Kashmir: Mehbooba Mufti के बयान से चढ़ा BJP का पारा, श्रीनगर में PDP ऑफिस पर फहराया तिरंगा
(Image Courtesy: Google)

BJP Tiranga Yatra Kashmir. नजरबंदी से रिहा होने के बाद जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) का तिरंगे पर की गई टिप्पणी ने बीजेपी का पारा चढ़ा दिया है. भारतीय जनता पार्टी (BJP Tiranga Yatra Kashmir)ने जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है.

सोमवार सुबह बीजेपी कार्यकर्ताओं ने न सिर्फ श्रीनगर (Srinagar) के लाल चौक तिरंगा फहराया, बल्कि बाद में जम्मू में महबूबा मुफ्ती के खिलाफ प्रदर्शन किया उनके कार्यालय पर तिरंगा फहरा दिया.

कड़ी रही सुरक्षा व्यवस्था

बीजेपी की तिरंगा यात्रा (BJP Tiranga Yatra Kashmir) के मद्देनजर पुलिस ने महबूबा मुफ्ती के घर के बाहर कड़ी सुरक्षा कर रखी थी. इसके बावजूद सैकड़ों की संख्या में पहुंचे बीजेपी कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी कर दीवार पर चढ़ कर ऑफिस पर पीडीपी का झंडा उतार कर तिरंगा फहरा दिया. जम्मू में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पीडीपी कार्यालय पर तिरंगा (BJP Tiranga Yatra Kashmir) फहराया भारत माता की जय के नारे लगाए.

कई दिनों से चल रहा है विरोध

इससे पहले रविवार को भी एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने जम्मू में पीडीपी के कार्यालय के बाहर नारेबाजी की थी. पीडीपी के दफ्तर के बाहर तिरंगा फहराया गया, नारेबाजी की गई. दरअसल पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) हाल ही में नज़रबंदी से रिहा की गई हैं. जिसके बाद से घाटी में राजनीतिक हलचल बढ़ी है. महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने हाल ही में एक बयान दिया था, जिस पर काफी बवाल मचा हुआ है.

ये भी पढ़ें: महबूबा के बयान पर संग्राम, लाल चौक पर तिरंगा फहराने पहुंचे BJP कार्यकर्ता हरासत में

इस बयान ने मचाया उबाल

महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने कहा था, ‘मैं जम्मू-कश्मीर के अलावा दूसरा कोई झंडा नहीं उठाऊंगी. जिस वक्त हमारा ये झंडा वापस आएगा, हम उस (तिरंगा) झंडे को भी उठा लेंगे. मगर जब तक हमारा अपना झंडा, जिसे डाकुओं ने डाके में ले लिया है, तब तक हम किसी झंडे को हाथ में नहीं उठाएंगे. वो झंडा हमारे आईन का हिस्सा है, हमारा झंडा तो ये है. उस झंडे से हमारा रिश्ता इस झंडे ने बनाया है.’