लद्दाख के आसपास बढ़ी चीनी सेना की मौजूदगी, गाड़े 100 से ज्यादा तंबू… सैकड़ों सैनिक तैनात

0
540
Indo china clash ladakh pangong tso lake
भारतीय सेना ने भी गलावन घाटी और आसपास के क्षेत्रों में अपनी गश्त बढ़ा दी है (साभार-गूगल)

नई दिल्ली. कोरोना संकट के बीच भारत और चीन वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर एक बार फिर आमने-सामने हैं. दोनों देशों के बीच LAC पर तनातनी बढ़ चुकी है. चीन ने लद्दाख में LAC पर पैंगोंग त्सो झील (Pangong Tso Lake) और गालवान घाटी में अपने सैनिकों की संख्या में इजाफा कर दिया है.

इस बीच चीन की तरफ से अफवाहें उड़ाने का काम भी शुरू हो चुका है. चीन की तरफ से अफवाह फैलाई गई कि पूर्वी लद्दाख सेक्टर में चीनी सैनिकों ने गश्त के दौरान भारत की एक पेट्रोलिंग पार्टी को हिरासत में लेकर पूछताछ की. भारतीय सेना की तरफ से आज साफ कर दिया गया कि यह महज अफवाह है और इसमें कोई सच्चाई नहीं है.

चीनी सैनिकों ने गाड़े तंबू

भारत और चीन की इस तनातनी के बीच गलवान घाटी में चीन ने अपने सैनिकों की मौजूदगी बढ़ा दी है. बताया जा रहा है कि पिछले 2 हफ्तों के अंदर चीनी सेना ने यहां 100 तंबू गाड़ दिए हैं. साथ ही साथ बंकर बनाने के लिए बड़े उपकरण यहां देखे गए हें.

ये भी पढ़ें : प्रवासी मजदूरों के लिए सोनू सूद ने खोले दिल के दरवाजे, कहा-पैदल घर क्यों जाओगे दोस्त, नंबर भेजो

भारतीय सेना भी तैयार

दूसरी तरफ भारतीय सेना ने भी साफ कर दिया है कि चीनी सैनिकों को घुसपैठ की अनुमति नहीं दी जाएगी. जिन इलाकों में चीनी सैनिकों की संख्या बढ़ रही है, वहां भारतीय सेना ने भी अपनी गश्त और मजबूत कर दी है.

यहां ये भी बताना जरूरी है कि LAC पर चीन और भारत के बीच बढ़ते तनाव ने दोनों देशों को हजारों की संख्या में सैनिकों की तैनाती करने को मजबूर कर दिया है. भारत के साथ चीन की सेना को भी LAC पर हाई अलर्ट में रखा गया है.