बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत पर कोर्ट ने दिया FIR दर्ज करने का निर्देश, जानिए क्या है वजह

0
407
बॉलीवुड अभिनेत्री Kangana Ranaut पर कोर्ट ने दिया FIR दर्ज करने का निर्देश, जानिए क्या है वजह
(Image Courtesy: Google)

बेंगलुरू. कर्नाटक की एक कोर्ट ने शुक्रवार को बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए. रिपोर्ट के मुताबिक, तुमकुर स्थित अदालत कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के खिलाफ यह आदेश कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों को निशाना बनाकर किए गए उनके ट्वीट का लेकर जारी किए गए हैं.

आरोप है कि कंगना ने इन ट्वीट में किसानों का अपमान किया. हालांकि, कंगना रनौत उक्‍त ट्वीट डिलीट कर चुकी हैं.

वकील की शिकायत पर जारी हुआ आदेश

वकील एल रमेश नाइक की शिकायत के आधार पर न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी अदालत ने कायस्थसंद्रा पुलिस स्टेशन के निरीक्षक को बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया. अदालत ने कहा कि शिकायतकर्ता ने सीआरपीसी की धारा 156 (3) के तहत जांच के लिए एक आवेदन दाखिल किया था.

अधिवक्‍ता की शिकायत पर अदालत ने कथासंध्रा पुलिस स्टेशन के सर्कल पुलिस इंस्पेक्टर को एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया. कायथसंद्रा के ही रहने वाले नाइक ने बताया कि क्षेत्राधिकार पुलिस स्टेशन को अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) से पूछताछ करने का भी निर्देश दिया गया है.

क्या था Kangana Ranaut का ट्वीट

न्यूज एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, 21 सितंबर को कंगना ने अपने ट्व‍िटर हैंडलर @KanganaTeam पर यह विवादित ट्वीट किया था. ट्वीट में कहा गया था कि ‘सीएए के बारे में गलत सूचना और अफवाह फैलाने वाले जो लोग दं गे का कारण बने, अब वही किसान बिल के बारे में गलत सूचना फैला रहे हैं और देश में आ तं;क फैला रहे हैं. ऐसे लोग आ तंक; वादी हैं.’

ये भी पढ़ें: SBI ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी, मंथली ऐवरेज बैलेंस घटा.. पेनल्टी में भी राहत

हालांकि अगली लाइन में उक्‍त ट्वीट को जस्टिफाई करते हुए कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने यह भी कहा गया था कि… ‘आप अच्छी तरह से जानते हैं कि मैंने क्या कहा, लेकिन यह केवल गलत सूचना फैलाने के लिए!’ अधिवक्‍ता रमेश नाइक का कहना है कि इस ट्वीट से उनकी भावनाओं के ठेस पहुंची, जिसके बाद उन्होंने कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने का फैसला लिया.