रिटायर जज इंदू मल्होत्रा करेंगी पीएम की सुरक्षा चूक की जांच, SC ने नियुक्त किया कमिटी चीफ

डेस्क: सुप्रीम कोर्ट की रिटायर जज इंदू मल्होत्रा (Justice Indu Malhotra) पीएम की सुरक्षा में कथित चूक (PM Modi Security Breach) की जांच करेंगी।

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने बुधवार को आदेश दिया कि रिटायर जज जस्टिस इंदू मल्होत्रा (Justice Indu Malhotra) की अध्यक्षता में एक जूडिशल कमिटी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की हाल की पंजाब यात्रा के दौरान हुई कथित सुरक्षा चूक (PM Modi Security Breach) की जांच करेगी। कमिटी के अन्य सदस्यों में राष्ट्रीय जांच एजेंसी के महानिदेशक, पंजाब के सुरक्षा महानिदेशक और पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार जनरल होंगे।

आवश्यक सुरक्षा उपायों के सुझाव देगी कमिटी

समिति सुरक्षा भंग के कारणों की जांच करेगी और प्रधानमंत्री की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक सुरक्षा उपायों का भी सुझाव देगी। यह आदेश चीफ जस्टिस एनवी रमना और जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस हिमा कोहली की पीठ ने एक याचिका पर पारित किया। इसमें पीएम मोदी की पंजाब यात्रा के दौरान कथित सुरक्षा उल्लंघन की अदालत की निगरानी में जांच की मांग की गई थी।

केंद्र की समिति को किया था भंग

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने 5 जनवरी को पंजाब दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में सेंध के मामले की जांच के लिए केंद्र सरकार की गठित समिति को भंग कर दिया था। पंजाब सरकार की तरफ से केंद्र की जांच समिति की निष्पक्षता पर संदेह उठाने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने यह फैसला किया था। इसके साथ ही, शीर्ष अदालत ने एक स्वतंत्र जांच समिति का गठन कर दिया था।

5 जनवरी को 15-20 मिनट तक फंसे रहे थे PM

पीएम मोदी 5 जनवरी की सुबह पंजाब में बठिंडा पहुंचे थे। इसके बाद उन्हें हेलीकॉप्टर से हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाना था। बारिश और खराब दृश्यता के कारण सड़क मार्ग से जाने का निर्णय लिया गया था।

हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक से करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर, जब प्रधानमंत्री का काफिला एक फ्लाईओवर पर पहुंचा, तो यह पाया गया कि कुछ प्रदर्शनकारियों ने सड़क को जाम कर दिया है। प्रधानमंत्री 15-20 मिनट तक फ्लाईओवर पर फंसे रहे। इस सुरक्षा चूक के बाद, बठिंडा एयरपोर्ट पर वापस लौटने का निर्णय लिया गया।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.