पुराने दोस्त रूस से बड़ी डील, 21 नए मिग-29 और 12 सुखोई खरीदेगा भारत.. रक्षा मंत्रालय ने किया ऐलान

0
210
Mig-29
(Image Courtesy: Google)

नई दिल्ली. लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहे तनाव के दरम्यान भारत सरकार ने पुराने दोस्त रूस से बड़ी डील फाइनल कर ली है. इस डील के तहत भारत रूस से 21 नए मिग-29 और 12 सुखोई फाइ;टर जेट्स खरीदेगा.

केंद्र सरकार ने आज रूस के साथ 38,900 करोड़ की लागत से इन फाइ;टर जेट्स और मिसा;इल सिस्टम की खरीद को मंजूरी दे दी है.

रक्षा खरीद परिषद की बैठक में लिया गया फैसला

रक्षा मंत्रालय की तरफ से बताया गया 21 मिग-29 फाइ;टर जेट्स रूस से जबकि 12 एसयू-30 एमकेआई विमान हिन्दुस्तान एरोनॉटिकल्स लिमिटेड से खरीदे जाएंगे. मंत्रालय ने मौजूदा 59 मिग-29 विमानों को उन्नत बनाने के एक अलग प्रस्ताव को भी मंजूरी दी है.

ये भी पढ़ें : पाकिस्तान में बन रहे हिंदू मंदिर पर छाए संकट के बादल, बनने से पहले ही जारी हुआ फतवा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में रक्षा खरीद परिषद (डीएसी) की बैठक में ये फैसले लिए गए. अधिकारियों ने बताया कि 21 मिग-29 फाइ;टर जेट्सों और मिग-29 के मौजूदा बेड़े को उन्नत बनाने पर अनुमानित तौर पर 7,418 करोड़ रुपये खर्च होंगे.

इसे भी मिली मंजूरी

अधिकारियों ने बताया कि मंत्रालय ने 248 अस्त्र बीवीआर मिसा;इल सिस्टम की खरीद को भी स्वीकृति दी है. हवा से हवा में लड़ाई में सक्षम ये मिसा;इल सिस्टम सुपरसोनिक फाइ;टर जेट्सों से मुकाबला कर सकते हैं और सभी तरह के मौसम में दिन-रात हमेशा इनके काम करने की क्षमता होगी.

मंत्रालय ने जारी किया बयान

एक प्रेस विज्ञप्ति में मंत्रालय ने कहा है कि ”मौजूदा परिस्थिति और हमारी सीमाओं पर रक्षा के लिए सैन्य बलों को मजबूत” करने के वास्ते डीएसी ने ये निर्णय किया है. पिछले सात हफ्ते से पूर्वी लद्दाख में कई स्थानों पर भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच तनाव गहरा गया है. गलवान घाटी में 15 जून को भारत के 20 सैन्यकर्मियों की शहादत के बाद तनाव और बढ़ गया है.