केरल विमान हादसे पर हरदीप सिंह पुरी का बड़ा बयान, बताया-कैसे हुआ हादसा?

Kerala plane crash: केरल के कोझिकोड में हुए एयर इंडिया विमान हादसे में मरने वालों की संख्या 19 हो गई है। वहीं इससे पहले नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने 18 लोगों के मरने की पुष्टी की है। शनिवार तड़के हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि हादसे में मरने वाले 18 लोगों में दो पायलट भी शामिल है।

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, हरदीप सिंह पुरी ने कहा, ‘दो पायलट समेत 18 लोगों की मौत हुई है। ये दुर्भाग्यपूर्ण है। 127 लोग अस्पताल में हैं। अन्य लोगों को छुट्टी दे दी गई है।’

क्या बोले हरदीप सिंह पुरी

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगर विमान में आग लग जाती तो हमारा काम बेहद मुश्किल हो जाता। मैं आज कोझिकोड इंटरनेशनल एयरपोर्ट जा रहा हूं। इस विमान में 190 यात्री थे और ये वंदे भारत मिशन के तहत दुबई से लौट रहा था।

उन्होंने कहा कि पायलटों ने जरूर भारी बारिश के कारण इस टेबलटॉप एयरपोर्ट के रनवे के आखिर तक विमान को रोकने की कोशिश की होगी लेकिन ये फिसलन के कारण आगे बढ़ गया।

एयर इंडिया का विमान शुक्रवार रात हुआ था हादसे का शिकार

एयर इंडिया का ये विमान शुक्रवार रात केरल के कोझिकोड में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। दरअसल, विमान भारी बारिश के बीच लैंडिंग के दौरान हवाईपट्टी पर फिसलने के बाद खाई में जा गिरा। विमान दो हिस्सों में टूट गया। मृतकों में मुख्य पायलट कैप्टन दीपक साठे और उनके सह-पायलट अखिलेश कुमार भी शामिल हैं।

डीजीसीए ने दी जानकारी

नागर विमानन मंत्रालय के अनुसार बी737 द्वारा दुबई से संचालित उड़ान संख्या आईएक्स1344 शुक्रवार को कोझिकोड में शाम सात बजकर 41 मिनट पर रनवे पर फिसल गई। विमान में 10 नवजात समेत 184 यात्री, दो पायलट और चालक दल के चार सदस्य थे।

डीजीसीए के बयान में कहा गया कि हवाईपट्टी-10 पर उतरने के बाद विमान रुका नहीं और हवाईपट्टी के अंत तक पहुंचकर खाई में गिरने के बाद दो हिस्सों में टूट गया। एअर इंडिया एक्सप्रेस के बेड़े में सिर्फ बी737 विमान हैं।