भारत के एक मिसाइल टेस्ट ने उड़ाए चीन और पाक के होश, DRDO ने बनाई SMART मिसाइल

नई दिल्ली। चीन और पाकिस्तान के साथ दो मोर्चों पर उलझे भारत के लिए एक अच्छी खबर आई है। दरअसल, डीआरडीओ (DRDO) ने एक ऐसी स्मार्ट मिसाइल का सफल परीक्षण किया, जिसने भारत की मजबूती को और बढ़ा दिया है। इस मिसाइल के सफल टेस्ट से पड़ोसी देशों में भी हलचल पैदा हो गई है।

दरअसल, भारत ने मंगलवार को लंबी दूरी की सुपरसोनिक मिसाइल असिस्टेड टॉरपीडो (Supersonic Missile Assisted Torpedo) का सफल परीक्षण किया है। डीआरडीओ (DRDO) द्वारा विकसित की गई इस मिसाइल ने ओडिशा के बालासोर तट से परीक्षण उड़ान भरी। डीआरडीओ ने बताया कि इस मिसाइल को भारतीय नौसेना के सबमरीन वॉरफेयर को मजबूत करने के लिए बनाया गया है। सुपरसोनिक मिसाइल ट्रेडिशनल टॉरपीडो के मुकाबले ज्यादा शक्तिशाली बताई जा रही है।

इसे भी पढ़ें : जनवरी में उत्तर प्रदेश समेत 5 राज्यों विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान संभव

डीआरडीओ (DRDO) के अनुसार, टॉरपीडो रेंज से अधिक पॉवरफुल मानी जाने वाली यह एंटी सबमरीन वॉरफेयर ऑपरेशन मिसाइल (SMART) लाइट वेट एंटी सबमरीन टॉरपीडो सिस्टम में काफी सहायक साबित होगी। दरअसल, टॉरपीडो एक ऐसा वेपन सिस्टम है, जो पानी के अंदर एक निश्चित दूरी वाले टारगेट को भेदता है। 2010 में डीआरडीओ ने मिसाइलों द्वारा टारपीडो लॉन्च करने की क्षमता निर्माण के लिए एक परियोजना शुरू की थी। इस सिस्टम का पहला टेस्ट 4 अक्टूबर 2020 किया गया था।