एक जैसे हैं मोदी और ट्रंप, दोनों ही लोकतंत्र और संस्थाओं में विश्वास नहीं करते : दिग्विजय सिंह

नई दिल्ली। वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर पीएम मोदी और उनके कामकाज के तरीकों पर सवाल उठाए हैं। दिग्विजय ने पीएम मोदी और ट्रंप की तुलना करते हुए दोनों को समान बताया।

दिग्विजय ने कहा कि ट्रंप और मोदी का लोकतंत्र में विश्वास नहीं है और अपने हित के लिए संस्थाओं का बर्बाद कर रहे हैं।

मोदी आर्मी की परवाह नहीं

दिग्विजय सिंह ने अपने ट्वीट में कहा, ‘ट्रंप के शासन में अमेरिका और मोदी के शासन में भारत में अद्भुत समानता है. दोनों लोकतंत्र में विश्वास नहीं करते हैं और अपने स्वार्थ के लिए संस्थानों और लोकतंत्र को बर्बाद कर रहे हैं। मुझे पता है कि मोदी ट्रोल आर्मी क्या कहने वाली है, लेकिन मुझे परवाह नहीं है। नेशन फर्स्ट होना चाहिए।’

शिवराज पर भी साधा निशाना

शिवराज सरकार की ओर से सरकार नौकरियों में सिर्फ राज्य के निवासियों को आरक्षण दिए जाने के ऐलान का दिग्विजय सिंह ने स्वागत किया है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि मेरी मांग शिवराज सिंह चौहान ने स्वीकार की, इसके लिए धन्यवाद, लेकिन जब तक शासकीय आदेश नहीं निकलेगा तब तक आप पर कैसे भरोसा करें?

15 साल किस बात का इंतजार कर रहे थे शिवराज

दिग्विजय सिंह ने पूछा कि 15 साल तक किस बात का इंतजार था? हज़ारों मध्यप्रदेश के होनहार नौजवानों का हक़ आपने मारा और व्यापम के भ्रष्टाचार के लिए कौन ज़िम्मेदार है? आप और केवल आप। गौरतलब है कि 9 अगस्त को दिग्विजय सिंह ने एक वीडियो शेयर करके रोजगार का मुद्दा उठाया था।

दिग्विजय सिंह ने कहा था कि मध्यप्रदेश के बेरोजगारों की समस्या बढ़ती जा रही है। जिनके पास रोजगार था वे भी कोरोना संकट काल में बेरोजगार होते जा रहे हैं। कांग्रेस की मांग है कि शिवराज सरकार उन्हीं को नौकरी में ले जिन्होंने 10वीं कक्षा मध्य प्रदेश से पास की हो जैसा कि मेरे मुख्यमंत्री कार्यकाल में नियम था।