आरएसएस में होकर भी नेहरूवादी थे पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी : दिग्विजय सिंह

0
264
Atal Digvijay
(Image Courtesy: Google)

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को नेहरूवादी बताया है। दरअसल, वाजपेयी जी की पुण्यतिथि के एक दिन बाद सिंह अटल जी के बहाने मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

बता दें कि रविवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि थी। हालांकि, पूर्व पीएम वाजपेयी को लेकर दिग्विजय सिंह के ट्वीट के बाद लोगों ने उन्हें ट्रोल कर डाला।

क्या बोले दिग्विजय

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि के एक दिन बाद दिग्विजय सिंह ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि ‘अटल जी लोकतंत्र में विश्वास करते थे। संघ (RSS) में रहते हुए भी वे नेहरूवादी थे। उनको सादर नमन।’

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि ‘मोदी शाह जी कहां आप की सोच और कहां अटल जी की सोच। ठीक विपरीत। वे लोकतंत्र के पुजारी थे, आप देश को एकतंत्र की ओर ले जा रहे हैं।’

शेयर किया अटल जी का पुराना वीडियो

ट्वीट के साथ उन्होंने पूर्व पीएम अटल का एक पुराना वीडियो भी शेयर किया है। वीडियो में वो कहते नजर आते हैं, ‘देश को स्थाई सरकार भी चाहिए और देश को जवाबदेह सरकार भी चाहिए। अगर सराकर स्थाई है मगर भ्रष्ट है। अगर सदस्यों (सांसदों) को खरीदकर बहुमत बनाती है। या अन्य तरह के लालच देकर उनका समर्थन प्राप्त करती है… तो संख्या स्थायित्व नहीं होगा… लोकतंत्र चलेगा तो किसी नैतिक आधार पर चलेगा।’

लोगों के किया ट्रोल

दिग्विजय सिंह अपने ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं। ट्विटर पर लोगों ने उनकी जमकर क्लास लगा दी। एक यूजर ने लिखा, ‘नेहरूवादी नहीं थे। कांग्रेस की सोनिया गांधी की गलत सोच के हिसाब से देश ने अटलजी जैसे नेतृत्व को खोया और एक भ्रष्ट सरकार को पाया। जिसने देश के हित को हटा के सिर्फ भ्रष्टाचार किया और हिन्दू धर्म और भारत देश को नुकसान पहुंचाया। बंदर के हाथ तलवार लग गई।’

वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘झूठ… नेहरूवादी होते तो शशि थरूर और तुम्हारे जैसे होते। उनकी भी एक एडवीना होती।’