होम टॉप न्यूज Delhi School Reopen: आज से खुलें 9वीं और 11वीं के लिए दिल्ली...

Delhi School Reopen: आज से खुलें 9वीं और 11वीं के लिए दिल्ली के स्कूल

0
443
New Delhi: School Reopen in Delhi: दिल्ली के सरकारी और प्राइवेट स्कूल आज से क्लास 9 और 11 के लिए खुल गए हैं। 5 फरवरी से इन दो क्लास के लिए स्कूल खोलने के दिल्ली सरकार के ऐलान बाद सभी स्कूलों ने पैरंट्स से लिखित सहमति लेना शुरू कर दिया है।

पैरंट्स की सहमति के लिए कई स्कूल इस हफ्ते इंतजार करेंगे और सोमवार को खुलेंगे। दूसरी ओर, 18 जनवरी से क्लास 10 और 12 के लिए स्कूल खुलने के बाद अब स्कूलों में स्टूडेंट्स की संख्या 40% से 80% के बीच हो गई है। स्कूलों का यह भी कहना है कि क्लास 9 और 11 के लिए स्कूल खुलने के बाद स्टूडेंट्स की संख्या और बढ़ेगी, तो मार्च से ट्रांसपोर्ट सर्विस शुरू करने पर विचार किया जाएगा।

कोविड गाइडलाइंस का ख्याल रखते हुए सभी सरकारी स्कूल और कई प्राइवेट स्कूल क्लास 9 और 11 के लिए आज खुल गए हैं। इन स्टूडेंट्स को भी शिफ्ट वाइज बुलाया जा रहा है। द्वारका के वेंकटेश्वर इंटरनैशनल स्कूल के चेयरपर्सन रामपाल कहते हैं, पैरंट्स से सहमति ली जा रही है और शुक्रवार को क्लास 9 और 11 के कुछ स्टूडेंट्स के आने की उम्मीद है।

क्लास 10 और 12 के अब 60-70% स्टूडेंट्स स्कूल आ रहे हैं। ऐसे में उम्मीद है इन सभी क्लासेज के लिए इस महीने के आखिर तक स्टूडेंट्स की संख्या काफी बढ़ जाएगी। हालांकि, ट्रांसपोर्ट व्यवस्था हम दिल्ली सरकार के निर्देश पर ही शुरू करेंगे। रोहिणी का माउंट आबू पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल ज्योति अरोड़ा ने भी बताया कि दोनों क्लासेज के लिए शुक्रवार से स्कूल खुल रहे हैं।

वहीं, बाल भारती स्कूल, पूसा रोड के प्रिंसिपल एलएस सहगल का कहना है, हम 9वीं और 11वीं के लिए सोमवार को स्कूल खोलेंगे, क्योंकि पैरंट्स के सहमति के लेटर अभी नहीं आए हैं। इन लेटर के हिसाब से ही तय किया जाएगा कि स्टूडेंट्स को सेक्शन या सेशन में कैसे बुलाना है। बोर्ड क्लासेज का अब रिस्पॉन्स बहुत अच्छा है, 80% से ज्यादा स्टूडेंट्स आ रहे हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का खयाल रखकर हम इन्हें सेक्शन और बैच वाइज बुला रहे हैं। डीएवी, श्रेष्ठ विहार भी सोमवार से खुलेगा। स्कूल के मैनेजमेंट ने बताया कि पहले लग रहा है कि अटेंडेंस काफी कम है मगर अब क्लास 12 के 80% स्टूडेंट्स स्कूल आ रहे हैं। उनके प्रैक्टिकल चल रहे हैं। 10वीं के भी 70% अटेंडेंस है।

वहीं, पूसा रोस का स्प्रिंगडेल्स स्कूल ने 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स को गुरुवार से बुलाना शुरू किया है। स्कूल की प्रिंसिपल अमिता वट्टल कहती हैं, इन बच्चों के ऑनलाइन प्री बोर्ड एग्जाम चल रहे थे, इसलिए हम उन्हें डिस्टर्ब नहीं करना चाहते थे। 40-50% स्टूडेंट्स अभी आ रहे हैं। अब 9वीं ओर 11वीं के बच्चों को हम 22 फरवरी से बुलाएंगे।

ट्रांसपोर्ट के लिए मार्च का इंतजार

ट्रांसपोर्ट सर्विस का इंतजार पैरंट्स और स्टूडेंट्स दोनों को है। अनऐडेड रिकग्नाइज्ड प्राइवेट स्कूल्स की एक्शन कमिटी के सेक्रेटरी भरत अरोड़ा का कहना है, ट्रांसपोर्ट को लेकर अभी सरकार से हमारी बात नहीं हुई है क्योंकि अभी स्टूडेंट्स काफी कम हैं। एक-एक रूट पर एक-दो बच्चे ही हैं।

अब क्लास 9 और 11 के बच्चे आने से अटेंडेंस बढ़ेगी और अगर यह अच्छी रही तो चारों क्लासेज के लिए ट्रांसपोर्ट सुविधा शुरू की जा सकेगी। मार्च में प्री बोर्ड और एग्जाम भी हैं, ऐसे में सभी स्टूडेंट्स स्कूल आएंगे और उस वक्त यह सर्विस शुरू की जा सकती है। अभी स्टूडेंट्स मेट्रो, ऑटो, बस, रिक्शा या अपने पैरंट्स की गाड़ी से स्कूल जा रहे हैं।