22 सितंबर तक जेल में ही रहेंगी Rhea Chakraborty, जमानत याचिका खारिज… भाई का बयान बना मुसीबत

मुंबई. अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput) में ड्र ग्स कनेक्शन को लेकर फंसी रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) की जमानत याचिका कोर्ट ने खारिज कर दी है. अब रिया के वकील हाई कोर्ट का रुख कर सकते हैं. हालांकि, अभी रिया के वकील ने यह नहीं बताया कि वह कब हाई कोर्ट में जमानत याचिका को दायर करेंगे.

इस पूरे मामले में भाई शौविक चक्रवर्ती का बयान अहम माना जा रहा है. शायद यही वजह रही है कि कोर्ट ने रिया को जमानत देने से इंकार कर दिया.

Rhea Chakraborty के साथ सभी की जमानत याचिका खारिज

सेशंस कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती के अलावा शोविक चक्रवर्ती, अब्दुल बासित, जैद, दीपेश सांवत और सैमुअल मिरांडा की जमानत याचिका को खारिज कर दिया है. गौरतलब है कि रिया के वकील सतीश मानशिंदे ने बुधवार को रिया की जमानत की याचिका लगाई थी. गुरुवार को जमानत याचिका पर सुनवाई हुई. इस दौरान मानशिंदे ने कहा था कि हिरासत में रिया की जा न को ख’त रा है.

सेशंस कोर्ट में NCB की ओर से अदालत में दलीलें दी गई कि उनके पास रिया चक्रवर्ती समेत अन्य आरोपियों के खिलाफ पुख्ता बयान हैं, जो ड्र ग्स कनेक्शन को साबित करते हैं. इन्हीं दलीलों के बाद अदालत ने फैसला लिया.

शौविक, सैम्युल और दीपेश के बयान अहम

साथ ही एनसीबी की ओर से दीपेश सावंत, सैम्युल मिरांडा और मुख्य रूप से शोविक चक्रवर्ती के बयानों का हवाला दिया गया. जिसमें इन सभी ने इस बात को कबूला है कि वो ड्र ग्स खरीदते थे और आगे देते थे.

इतना ही नहीं, एनसीबी के सामने शौविक चक्रवर्ती ने उस पूरे सिंडिकेट के बारे में बताया था कि कैसे वो ड्र ग्स खरीदता था. शौविक के मुताबिक, उसने और Rhea Chakraborty ने कई बार सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्र ग्स मंगवाए थे. यहां तक कि सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा ने भी शौविक, रिया और सुशांत के कहने पर उनसे ड्र ग्स खरीदे थे. शौविक के मुताबिक, रिया उससे ड्र ग्स मंगवाती थी जिसके पैसे वही दिया करती थी.

दो दिन से जेल में हैं रिया

बता दें कि Rhea Chakraborty बीते दो दिनों से जेल में ही हैं, मंगलवार रात को सेशंस कोर्ट ने ही रिया को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का फैसला लिया था. रिया चक्रवर्ती पर जो धाराएं लगी हैं, उनमें सिर्फ ड्र ग्स खरीदने ही नहीं बल्कि उन्हें आगे बढ़ाने का भी आरोप है जिनपर दस साल की सजा का प्रावधान है. ऐसे में बेल मिलना आसान नहीं है.

ये भी पढ़ें : कंगना रनौत पर उद्धव सरकार का एक और एक्शन, ड्र’ग्स केस की जांच करेगी मुंबई पुलिस

Rhea Chakraborty पर NDPS एक्ट 1985 के तहत केस दर्ज किया गया है, जो कि मादक दवाओं से संबंधित एक कठोर कानून है. इसकी धारा 27 के तहत, अगर कोई नारकोटिक ड्र ग्स का सेवन करता है, तो यह कृत्य भी दंडनीय अपराध है. साथ ही इसकी ही एक धारा में ड्र ग्स खरीदने, बेचने और किसी को देने पर सजा का प्रावधान है.

एनसीबी पूछताछ में हुए बड़े खुलासे

एनसीबी के सामने पूछताछ में इन सभी ने ड्र ग्स कनेक्शन को लेकर बड़े खुलासे किए थे. पूछताछ में रिया के भाई शोविक ने बताया था कि वह ड्र ग्स बेचता नहीं बल्कि खरीदता था. वहीं सैमुअल मिरांडा ने बताया कि वह साल 2019 से लेकर 2020 तक सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्र ग्स अरेंज किया करता था. इतना ही नहीं खुद रिया चक्रवर्ती ने भी पूछताछ में ड्र ग्स खरीदने और पैसे अरेंज करने की बात कही थी.

ऐसे में यही कारण रहा कि Rhea Chakraborty पर ड्र ग्स खरीदने और ड्र ग्स के लिए पैसे अरेंज करने का आरोप लगा, इसी के तहत मामला भी दर्ज किया गया है. बता दें कि एनसीबी ने ड्र ग्स के इस्तेमाल मामले में गिरफ्तार किया था, जिसके बाद अदालत ने उसे 14 दिन के लिए 22 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया था. वो फिलहाल भायखला जेल में बंद हैं. ड्र ग्स कनेक्शन की जांच कर रही एनसीबी ने अब तक 10 गिरफ्तारियां की हैं.