Corona Vaccine update: पहले फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा, फिर इनकार, आखिर क्या चाहते हैं पीएम मोदी : राहुल गांधी

0
244
Corona Vaccine update: पहले फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा, फिर इनकार, आखिर क्या चाहते हैं पीएम मोदी : राहुल गांधी
(Image Courtesy: Google)

Corona Vaccine update. कोरोना महामारी के खिलाफ चल रही जंग के बीच बड़ी कामयाबी मिल रही है. अगले हफ्ते से ब्रिटेन में टीकाकरण का काम शुरू होने वाला है. इन सबके बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर से मोदी सरकार पर सवाल उठाए हैं.

दरअसल, ब्रिटेन ने अमेरिकी कंपनी फाइजर और जर्मनी की कंपनी बायोएनटेक की कोरोना वैक्सीन मंजूरी दे दी. इसके फौरन बाद रूस के राष्ट्रपति ने भी टीकाकरण (Corona Vaccine update) को हरी झंडी दे दी. भारत में वैक्सीन के जल्द आने के आसार हैं. इसी को लेकर राहुल ने केंद्र सरकार को आड़े हाथ लिया है.

बार बार अपना स्टैंड बदल रहे पीएम

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा था कि सबको कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine update) मिलेगी, बिहार चुनाव में बीजेपी ने कहा कि सभी बिहारियों को फ्री में कोरोना वैक्सीन मिलेगी, अब भारत सरकार ने इससे इनकार कर दिया.

ये भी पढ़ें: कोरोना काल में सगाई करनी पड़ी महंगी, 6 हजार लोग बुलाने वाले BJP के पूर्व मंत्री बेटे संग गिरफ्तार

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव के बयान का जिक्र करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सरकार कह रही है कि हम कभी भी सबको वैक्सीन (Corona Vaccine update) देने का वादा नहीं किया, ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का क्या स्टैंड है? इससे पहले कांग्रेस ने पूछा कि क्या लोगों को वैक्सीन मिलेगी या इसके लिए उन्हें आत्मनिर्भर बनना होगा?

क्या है भारत में वैक्सीन की स्थिति

अहमदाबाद में जायडस-कैडिला जायकोव-डी नाम का कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine update) बना रही है. ये पूरी तरह से देसी है जिसके दो चरण का ट्रायल हो चुका है. वहीं हैदराबाद में भारत बायोटेक ICMR के साथ मिलकर कोवैक्सीन नाम की कोरोना वैक्सीन बना रही है. एम्स सहित 25 अस्पतालों में इस वैक्सीन (Corona Vaccine update) का तीसरे फेज का ट्रायल चल रहा है.

मगर वैक्सीन (Corona Vaccine update) की रेस में सबसे आगे है पुणे में बन रही कोविशील्ड वैक्सीन. इसे सीरम इंस्टीट्यूट ब्रिटिश फार्मा कंपनी एस्ट्राजेनेका और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर बना रही है. ये वैक्सीन देश में सबसे आगे है. इसके तीसरे फेज का ट्रायल भी हो चुका है. वहीं इसे 60 से 70 फीसदी तक कारगर बताया गया है. इस वैक्सीन को बस मंजूरी का इंतजार है.