CM योगी का चला डंडा, भ्रष्टाचार के आरोप में प्रयागराज SSP सस्पेंड, 6 IPS का तबादला

लखनऊ. भ्रष्टाचार के आरोपों में फंसे प्रयाराज के एसएसपी (Prayagraj SSP) अभिषेक दीक्षित पर CM योगी ने बड़ा एक्शन लिया है. एसएसपी अभिषेक दीक्षित को निलंबित कर दिया गया है। बता दें कि अभिषेक दीक्षित वर्ष 2006 के तमिलनाडु काडर के आईपीएस हैं. वह राज्य प्रतिनियुक्त पर हैं. उनके स्थान पर लखनऊ में तैनात डीसीपी वेस्ट सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी को प्रयागराज का नया एसएसपी बनाया गया है.

योगी सरकार ने साथ ही ने 5 अन्य आईपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है.

गंभीर अनियमितताओं के बाद लिया फैसला

गृह विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि अभिषेक दीक्षित द्वारा एसएसपी प्रयागराज के रूप में तैनाती की अवधि में गंभीरत अनियमितताएं की गईं. उन्होंने शासन के निर्देशों का अनुपालन सही ढंग से नहीं किया. अभिषेक दीक्षित पर पोस्टिंग में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के भी आरोप लगे हैं.

शासन और डीजीपी मुख्यालय के निर्देशों के अनुरूप नियमित रूप से फुट पेट्रोलिंग करने और बैंकों तथा आर्थिक व्यवसायिक प्रतिष्ठानों की सुरक्षा एवं बाईकर्स द्वारा की जा रही लूट की घटनाओं की रोकथाम में भी वह नाकाम रहे. इनके द्वारा अपेक्षित कार्यवाही नहीं की गई. चेंकिग व पर्यवेक्षण का काम भी सही ढंग से नहीं किया गया. प्रयागराज में बीते तीन महीने में लम्बित विवेचनाओं में भी निरंतर वृद्धि हुई है.

देवेश कुमार पाण्डेय लखनऊ में पुलिस उपायुक्त बने

लखनऊ के पुलिस उपायुक्त सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी के स्थान पर देवेश कुमार पाण्डेय को लखनऊ का पुलिस उपायुक्त बनाया गया है. वह एटीसी सुलतानपुर में एएसपी थे.

पुष्पांजलि सिंह डीआईजी रेलवे बनीं

वहीं शासन ने गोरखपुर में तैनात रहीं डीआईजी रेलवे पुष्पांजलि सिंह को लखनऊ रेलवे का डीआईजी बनाया है. उन्नाव के माखी में हुए रेप कांड के मामले में वह विवादों में घिरी थीं. उन्नाव में तैनाती के दौरान उन पर आरोप लगे थे कि उन्होंने पीड़ित महिला द्वारा विधायक पर रेप का आरोप लगाए जाने पर, उसकी शिकायत को नजर अंदाज कर दिया. जांच के बाद सीबीआई ने उनके खिलाफ शासन से कार्रवाई की सिफारिश की है.

सीतापुर की 11वीं वाहिनी पीएसी के डीआईजी / मनोज कुमार पीएसी लखनऊ के नए डीआईजी होंगे. गोरखपुर क्षेत्रीय अभिसूचना इकाई के डीआईजी गंगा नाथ त्रिपाठी भ्रष्टाचार निवारण संगठन लखनऊ, डॉ. अखिलेश कुमार निगम को एसपी विशेष अनुसंधान शाखा सहकारिता लखनऊ की नई तैनाती मिली है. वह सतर्कता अधिष्ठान लखनऊ में एसपी थे.